जागरण संवाददाता, सिरसा : विद्यार्थियों के खाते में नाम में त्रुटि व खाता बंद होने के कारण 400 से अधिक विद्यार्थियों की बढ़ी हुई फीस खाते में नहीं पहुंच पाई है। खाते में फीस न आने के कारण विद्यार्थियों में रोष है। जिन विद्यार्थियों के खाते में अभी तक फीस नहीं आई है वे 25 नवंबर तक लिस्ट के अनुसार खाते की जांच करवा सकते है। इसके लिए कालेज प्रशासन की ओर से भी नोटिस जारी किया गया है।

नेशनल कालेज में एक माह पहले उच्चतर शिक्षा विभाग ने कालेज के खाते में बढ़ी हुई फीस को वापस भेज दिया गया था। जिसके पश्चात नोटिस जारी कर विद्यार्थियों को खाता और नाम जांचने का नोटिस लगाया गया था। जांच प्रक्रिया पूरी होने के बाद विद्यार्थियों के खाते में फीस वापस पहुंच गई लेकिन 400 से अधिक विद्यार्थियों की खाते में नहीं पहुंच पाई। जिसके कारण विद्यार्थियों को अब चक्कर काटने पड़ रहे है। ::::::छह माह पहले एडमिशन के दौरान अधिक फीस जमा करवाई गई थी। जिसके पश्चात कुछ विद्यार्थियों की फीस तो खाते में लौट आई लेकिन उनकी फीस अभी भी खाते में नहीं आई है। इससे पहले भी लिस्ट जांच की थी। खाता भी चालू स्थिति में है लेकिन फीस वापस नहीं पहुंच पाई।

रामचंद्र, बीए, प्रथम वर्ष ::::नोटिस बोर्ड पर खाते जांचने को नोटिस देखने के बाद लिस्ट में जांच करवाई गई थी। किसी भी तरह की कमी नहीं दिखाई दी लेकिन खाते में फीस वापस नहीं आई। अब प्रिसिपल के पास भी बार बार चक्कर काटने पड़ रहे हैं।

सचिन, बीए प्रथम :::खाते में त्रुटि होने के कारण कुछ विद्यार्थियों के फीस वापस नहीं लौट पाई है। इसके लिए विद्यार्थी 25 नवंबर तक लिस्ट और खाते की जांच करवा सकते है। कई विद्यार्थियों के खाते में नाम और खाता बंद होने के कारण इस तरह की स्थिति आई है।

राजकुमार जांगड़ा, प्रिसिपल, नेशनल कालेज सिरसा

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस