जागरण संवाददाता, सिरसा : पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड के नाम से फर्जी खाता बनाकर एक और व्यक्ति के साथ खल की एजेंसी दिलवाने के नाम पर हजारों रुपयों की ठगी हो गई। पीड़ित के साथ ठगी का यह मामला वर्ष 2017 में हुआ, लेकिन किसी ने इसकी सुनवाई नहीं की। पुलिस के उच्चाधिकारियों को पत्र भेजने के बाद भी कोई सुनवाई नहीं हुई तो पीड़ित ने सीएम विडो पर शिकायत दी। जिसके बाद अब शहर थाना पुलिस ने ठगी का मामला दर्ज किया है। जानकारी देते हुए गांधी कालोनी निवासी अनिल ग्रोवर ने बताया कि वह बांस का काम करता है। उसने पतंजलि की खल की एजेंसी लेनी थी तो उसने इंटरनेट पर कंपनी का पता सर्च किया। जिस पर उसे एक नंबर मिला। जिस पर संपर्क करने पर उसे कहा गया कि वह 22,500 रुपये जमा करवा दे, जिसके बाद उसने 17 नवंबर 2017 को पतंजलि आयुर्वेद के खाते में रुपये जमा करवा दिये। कुछ दिनों बाद उसके पास फिर फोन आया कि आपका रजिस्ट्रेशन हो गया है, आप तीन लाख रुपये और भेज दें। अनिल ग्रोवर ने बताया कि इस बार उसे दूसरा खाता नंबर दिया गया तो उसने उसकी पड़ताल की। पता चला कि वह खाता गणपत राय के नाम से है। जिसके बाद उसने रुपये नहीं भेजे और पहले भेजे गए 22,500 रुपये की पड़ताल करने पर पता चला कि वह भी किसी कुंदन लाल के खाते में जमा हुए हैं। अनिल ग्रोवर का कहना है कि इस मामले में बैंक अधिकारियों के साथ मिलकर ठगी की जा रही है। इस मामले की जांच कर रहे शहर थाना सिरसा के एएसआइ सत्यवान कर रहे है। पतंजलि से खल दिलवाने के नाम पर ठगी के दो मामले सामने आ चुके हैं। रानियां व सिरसा पुलिस जांच में जुटी है। - सुरजीत सिंह, पुलिस प्रवक्ता

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस