जागरण संवाददाता, सिरसा :

सिविल लाइन थाना पुलिस ने गांव हांडीखेड़ा निवासी विधवा महिला चंद्रबाई की शिकायत पर तीन लोगों के खिलाफ जमीन खरीद फरोख्त के नाम पर धोखाधड़ी करने का मामला दर्ज किया है। पीड़ित महिला ने पुलिस अधीक्षक को दी शिकायत में बताया कि उसने गांव पोहड़का में 29 कनाल छह मरले व छह सरसाईं का इकरारनामा जेल ग्राउंड सिरसा निवासी अनिल कुमार से 18 लाख 40 हजार रुपये में किया था। परंतु निर्धारित तिथि को उसने जमीन की रजिस्टरी नहीं करवाई तथा जमीन की रजिस्टरी किसी अन्य के नाम से करवाकर उसके साथ धोखाधड़ी कर ली। चंद्रबाई की शिकायत पर पुलिस ने जेल ग्राउंड सिरसा निवासी अनिल, सुरेंद्र व अनिल निवासी ऐलनाबाद के खिलाफ अभियोग दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। अपनी शिकायत में चंद्रबाई ने आरोप लगाया कि उसने हांडीखेड़ा गांव में अपनी साढ़े तीन किले जमीन बेचकर पोहड़का में 29 कनाल, छह मरले छह सरसाईं का इकरारनामा अनिल निवासी जेल ग्राउंड सिरसा से साढ़े छह लाख प्रति एकड़ के हिसाब से किया। तय सौदे के अनुसार उसने अनिल को पुरानी कचहरी में 51 हजार रुपये नकद व 12 लाख 89 हजार रुपये अपने बेटे संदीप के खाते से आरटीजीएस करवाए। इसके बाद 20 जून 2018 को रजिस्टरी की तारीख तय हुई। उसके बाद दोनों पक्षों में सहमति के बाद उसने अनिल को पांच लाख रुपये और दे दिये और रजिस्टरी 20 मई 2019 को करवानी तय की। अनिल ने बताया था कि आधी जमीन तो उसके नाम है तथा आधी अनिल निवासी ऐलनाबाद से फुल पेमेंट एग्रीमेंट ले रखा तथा रजिस्टरी के समय वह पूरी जमीन की रजिस्टरी करवा देगा। चंद्रबाई ने बताया कि कुछ दिन पहले वह अनिल के घर गई और उससे कहा कि आप जमीन की रजिस्टरी करवा दो तो उसने कहा कि उसने जमीन की रजिस्टरी किसी और के नाम करवा दी है, तुम्हें जो करना है कर लो। चंद्रबाई ने आरोप लगाया कि उसे पता चला है कि अनिल ने अपने साथियों अनिल व सुरेंद्र के साथ मिलकर भुर्टवाला निवासी शारदा देवी व कौशल्या के नाम उस जमीन की रजिस्टरी करवाकर उसके साथ धोखाधड़ी की है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस