जागरण संवाददाता, सिरसा :

हरियाणा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण पंचकूला के निर्देशानुसार न्यायालय परिसर सिरसा, उपमंडल न्यायालय डबवाली व ऐलनाबाद में राष्ट्रीय लोक अदालत आयोजित की गई। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की चेयरपर्सन डा. आरएन भारती ने बताया कि लोक अदालत में 1667 मामले निपटारे के लिए रखे गये हैं, जिनमें मुख्यत: चेक बाउंस, बैंक रिकवरी, मोटर वाहन दुर्घटना, घरेलू विवाद, बिजली व पानी से संबंधित विवाद, दीवानी व फौजदारी विवाद शामिल है।

लोक अदालत में न्यायालयों में विचाराधीन 37 केसों का निपटारा किया गया, जिनमें 33 लाख 4100 रुपये की राशि समायोजित की गई व प्री-लिटिगेटिव केस निपटारे के लिए रखे गए हैं, जिनमें न्यायालयों में विचाराधीन व 131 केस प्री-लिटिगेटिवका निपटारा हुआ जिनसे 2 लाख 20500 रुपये की राशि समायोजित की गई।

डा. भारती ने बताया कि इस लोक अदालत के लिए कुल चार बेंचों का गठन किया गया, जिसमें जरनैल सिंह, अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायधीश, परचेता सिंह, न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम श्रेणी तथा उपमंडल डबवाली में प्रदीप कुमार, सिविल जज जूनियर डिविजन एवं न्यायिक दंडाधिकारी प्रथम श्रेणी तथा उपमंडल ऐलनाबाद में दुष्यंत चौधरी, अतिरिक्त सिविल जज सीनियर डिविजन एवं उपमंडल न्यायधीश की बेंचों द्वारा केसों का निपटारा किया गया।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव अनमाल सिंह नयर ने बताया कि हरियाणा राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, पंचकूला के निर्देशानुसार समय-समय पर लोक अदालतों का आयोजन किया जाता है। उन्होंने बताया कि लोक अदालत की प्रक्रिया बिल्कुल संक्षिप्त व साधारण है, जिसमें दोनों पक्षों की सहमति से केस का निपटारा किया जाता है और लोक अदालत में किये फैसले की कोई अपील भी नहीं होती। दोनों पक्षों की सहमति से केस का फैसला होने के कारण दोनों पक्षों का मनमुटाव हमेशा के लिए समाप्त हो जाता है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस