जागरण संवाददाता, सिरसा : आयुष्मान भारत योजना गरीब परिवारों को स्वास्थ्य लाभ देने की दिशा में अहम साबित हुई है। योजना के तहत अब तक जिले में 15520 लोगों का फ्री इलाज हुआ है। योजना के तहत सरकार ने 19 करोड़ 47 लाख 12151 रुपये लाभार्थियों के इलाज के लिए खर्च किए हैं। तीन साल पहले 23 सितंबर 2018 को लांच हुई योजना के तहत जिले में 82652 परिवारों के चार लाख 2301 सदस्यों के कार्ड बनाए जाने थे। बाद में विभाग द्वारा चलाए गए एडिशन डाटा कलेक्शन ड्राइव (एडीसीडी) के तहत जिले में 59196 परिवारों की पहचान हुई तथा दो लाख 91 371 लोगों के कार्ड बनाने का लक्ष्य तय हुआ। योजना के तहत अब तक 47930 परिवारों के 139661 लोगों के कार्ड बन चुके हैं। जिले में अभी 11266 परिवार ऐसे हैं जिनके अभी तक कार्ड नहीं बने है। ऐसे परिवारों का फीसद 19.03 है तथा इन परिवारों से जुड़े 151711 लोगों के कार्ड बनाए जाने है। यह फीसद कुल लाभार्थियों के फीसद का 52.06 है।

------

सरकारी के बजाय निजी अस्पतालों में इलाज करवाने को प्राथमिकता दे रहे हैं लाभार्थी

आयुष्मान भारत योजना के तहत चयनित परिवारों को सर्जरी करवाने की सुविधा रहती है। योजना के तहत सरकार करीब पांच लाख रुपये सालाना वहन करती है। जिले में अब तक 15520 परिवार ऐसे हैं जिन्होंने इस योजना के तहत फ्री इलाज करवाया है। अब तक योजना के तहत सिरसा जिले में 19 करोड़ 47 लाख 12151 रुपये खर्च हो चुके हैं। इनमें से मात्र 529 लाभार्थियों ने ही सरकार अस्पताल में इलाज करवाया। जिनके इलाज पर 24 लाख नौ हजार 37 रुपये खर्च किए गए। इसके अलावा 14991 मरीज ऐसे हैं जिन्होंने निजी अस्पतालों में इलाज करवाया। जिसके तहत निजी अस्पतालों को सरकार ने 19 करोड़ 24 लाख 3114 रुपये दिये। योजना के तहत सिरसा जिले के 37 अस्पतालों को पैनल में शामिल किया गया है, जिनमें 10 सरकारी अस्पताल व 27 निजी अस्पताल है। चार अस्पताल और पैनल में जुड़ने के लिए प्रोसेस में हैं।

----------

आयुष्मान भारत योजना के तहत जिले में अब तक 15520 लाभार्थियों का इलाज हो चुका है। उनके इलाज पर सरकार ने 19.47 करोड़ रुपये वहन किए है। योजना के तहत अब तक जिले में 47930 परिवारों के 139661 लोगों के कार्ड बनाए गए है। जिन लोगों के कार्ड नहीं बने हैं वे सीएससी केंद्र में जाकर कार्ड बनवा सकते हैं।

- डा. प्रमोद कुमार, नोडल अधिकारी, आयुष्मान भारत योजना।

Edited By: Jagran