जागरण संवाददाता, रोहतक :

जिला लोक संपर्क एवं परिवेदना समिति में कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ किसी शिकायत पर अधिकारियों पर सख्त दिख तो चुटकी लेने में भी नहीं चूके। ऐसा कई बार हुआ, जब मंत्री ने अधिकारी व फरियादियों से अलग अंदाज में बात की। ऐसा ही एक शिकायत पर अधिकारियों से सवाल कर दिया, जिससे वे हक्के-बक्के रह गए। अधिकारी ने कहा कि शिकायत का समाधान कर शपथ -पत्र लेकर शिकायकर्ता की संतुष्टि कर दी है। इस पर मंत्री ने पूछा संतुष्ट असली तो है न.. यह बात सुनकर वहां मौजूद सभी लोग ठहाके लगाकर हंसने लग गए। सुबह 11 बजे शुरू हुई बैठक करीब दो घंटे तक चली इस बैठक में कृषि मंत्री ओमप्रकाश धनखड़ के समक्ष अनेक शिकायतें पहुंची। जिनमें पुलिस, नगर निगम, बिजली निगम, पंचायती राज, जनस्वास्थ्य विभाग, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण, श्रम विभाग व सिचाई विभाग आदि से संबंधित शिकायतें शामिल रही। मंत्री ने मौके पर पहुंचे सभी शिकायतकर्ताओं से बातचीत की और उनकी समस्याओं का जल्द से जल्द समाधान करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। बैठक में उपायुक्त आरएस वर्मा, एसपी राहुल शर्मा, अतिरिक्त उपायुक्त अजय कुमार, एसडीएम सांपला विवेक पदम, एसडीएम राकेश कुमार, एसडीएम महम रविद्र कुमार, नगराधीश महेश कुमार के अलावा भाजपा जिला प्रधान अजय बंसल, मार्केट कमेटी के चेयरमैन राजबीर आर्य, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य रमेश भाटिया आदि मौजूद रहे। बता दें कि चार माह बाद हुई समिति की बैठक में अनेक शिकायतें रखी गई। इन शिकायतों में से आठ शिकायतें वर्ष 2018 से लंबित हैं। 15 अगस्त से पहले हो समाधान

बैठक में पहुंची कई शिकायतों का समाधान करने के लिए जब अधिकारियों ने दो महीने का समय दिया तो इस पर मंत्री धनखड़ ने अधिकारियों से कहा कि दो महीने नहीं एक महीने में ही शिकायत का समाधान करें। जिस पर अधिकारियों ने एक महीने में समाधान करने की बात कही। इसी दौरान मंत्री ने फिर चुटकी लेते हुए कहा कि दो माह का समय तो सरकार के लिए भी पूरा नहीं बचा है। ऐसे में एक 15 अगस्त से पहले ही सभी शिकायतों का समाधान करें। शमशानघाट का भी उद्घाटन होता है क्या

जिला लोक संपर्क एवं परिवेदना समिति की मासिक बैठक में शिकायत लेकर पहुंचे आजादगढ़ विकास कल्याण समिति रोहतक के सदस्यों की समस्या का समाधान करने के निर्देश मंत्री ने अधिकारियों को दिए। जिसके बाद सदस्यों ने कहा कि समाधान होने पर उद्घाटन भी आपने करना है। इस पर मंत्री ने चुटकी लेते हुए कहा कि शमशानघाट का भी उद्घाटन होता है क्या। यह सुन लोग हंसी नहीं रोक पाए। मुआवजा दो नहीं तो मोदी की नजर है

बैठक में मंत्री के समक्ष एक व्यक्ति शिकायत लेकर पहुंचा। उन्होंने कहा कि उनको अभी तक भी मुआवजा नहीं मिला है। अधिकारियों से भी गुहार लगा चुका है। इस पर मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि पीड़ित को जल्द मुआवजा दिया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि काम में पारदर्शिता न रखने वाले कर्मचारियों व अधिकारियों पर प्रधानमंत्री मोदी की पैनी नजर है। इसलिए समस्याओं का समाधान समय पर करें।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप