ओपी वशिष्ठ, रोहतक। Coronavirus Precautions: कोरोना वायरस का संक्रमण जिस तरह तेजी से फैल रहा है, उसमें एहतियात ही एकमात्र और सबसे अच्छा उपाय है। हरियाणा में रोहतक स्थित पंडित भगवत दयाल शर्मा स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. ओपी कालरा का कहना है कि सोशल डिस्टेंस ही इससे बचाव का रास्ता है, लेकिन इसके साथ अन्य सावधानियां भी जरूरी हैं। लॉकडाउन का तो हर हाल में पालन किया जाना चाहिए।

फल-सब्जियों को गर्म पानी से धोएं : फलों और सब्जियों को तो वैसे भी बगैर धोए इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, लेकिन कोरोना के खतरे से बचाव के लिए इसे गर्म पानी में अच्छे से धोए।

साबुन से धोएं हाथ : कुछ भी छूने के बाद हाथ को जरूर धोएं। हालांकि इसके लिए बहुत सारे उपाय बताए जा रहे हैं, लेकिन साबुन पर्याप्त और प्रभावी है। यहां तक कि बाजार से सब्जी आदि खरीदने के बाद भी हाथ जरूर धोएं।

वायरस की चेन न बनने दें : ऐसा कुछ भी नहीं करें जिससे कोरोना वायरस की चेन बने। इसलिए सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखें। किसी भी हालत में घरों से न निकलें और लॉकआउट का हर हाल में पालन करें।

दस्ताने भी पहनें : कोई जरूरी चीज लेने निकलें तो मॉस्क के साथ दस्ताने जरूर पहनें। फल और सब्जी की खरीदारी करने भी दस्ताने पहन कर जाएं और घर आने पर डिटरर्जेंट पाउडर से धुल दें।

नाक-मुंह पर न लगाएं हाथ : सीधे नाक और मुंह पर हाथ लगाने से बचें। ध्यान रहे कि कोरोना वायरस का संक्रमण नाक और मुंह को छूने से ही ज्यादा हो रहा है।

डॉक्टर से सलाह लें : अगर कोई भी स्वास्थ्य संबंधी दिक्कत है तो संबंधित चिकित्सक से फोन पर परामर्श जरूर करें। अपने स्तर पर किसी दवा का इस्तेमाल न करें।

हेल्दी फूड खाएं : इस दौरान खान-पान का विशेष ध्यान रखें। हेल्दी फूड खाएं ताकि स्वस्थ बने रह

 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस