जागरण संवाददाता, रोहतक : दिल्ली से आ रही महिला भीड़ अधिक होने के कारण ट्रेन से अपने तीन वर्षीय बेटे को उतारना भूल गई। सूचना मिलने पर जीआरपी ने बच्चे को रोहतक रेलवे स्टेशन पर उतारकर परिजनों के हवाले कर दिया।

दरअसल, दिल्ली के केशवपुर की रहने वाली रेखा पत्नी भगवानदास बृहस्पतिवार को दिल्ली से जींद पैसेंजर ट्रेन में सवार हुई थी। जिसके साथ उसका तीन वर्षीय बेटा समीर भी था। खरावड़ स्टेशन पर महिला ट्रेन से उतर गई, लेकिन भीड़ अधिक होने के कारण वह ट्रेन से अपने बेटे को उतारना भूल गई। ट्रेन के निकलने के बाद महिला को अपने बेटे का पता चला। महिला ने स्टेशन से नंबर लेकर रोहतक रेलवे स्टेशन से जीआरपी से संपर्क किया। इसके बाद जीआरपी ने ट्रेन में चे¨कग अभियान चलाया। तब जाकर बच्चे को सकुशल बरामद कर लिया गया। जीआरपी एएसआई सतीश कुमार ने बताया कि बच्चे को उसके परिजनों के हवाले कर दिया है। परिजनों ने जीआरपी का आभार जताया है।

Posted By: Jagran