जागरण संवाददाता, रोहतक : करनाल के निकट भालौठ नहर के टूटने का असर रोहतक में दिखा है। तीन दिनों से पानी की आपूर्ति पूरी तरह से ठप हो गई है। पुराने शहर में पानी की आपूर्ति न होने से स्थानीय लोगों में भारी रोष है। लोगों ने नाराजगी जताते हुए कहा है कि यदि नहर में पानी की आपूर्ति तीन दिन से बंद थी, लेकिन जलघरों में पानी था। फिर भी पेयजल आपूर्ति के लिए पानी क्यों नहीं छोड़ा गया। दूसरी ओर, विभागीय अधिकारियों ने दावा किया है कि शुक्रवार से दोनों वक्त नियमित पानी की आपूर्ति की कोशिश की जाएगी।

जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के मुताबिक, भालौठ नहर से अभी जलघरों में पेयजल आपूर्ति हो रही थी। दोनों वक्त कॉलोनियों में पानी की आपूर्ति हो रही थी। तीन दिन पहले पानी की आपूर्ति बंद हो गई थी। इसलिए कॉलोनियों में पानी की आपूर्ति पूरी तरह से प्रभावित हो गई। विभागीय अधिकारियों ने यह भी बताया कि नहरी पानी ऊपर से बंद था। इसलिए कॉलोनियों में पानी आपूर्ति की आपूर्ति प्रभावित रही। अफसरों का यह भी कहना है कि बृहस्पतिवार को सूचना मिल चुकी है कि नहर में पानी छोड़ा जाएगा।

इन कॉलोनियों में पानी की आपूर्ति ठप

शहर में किला मुहल्ला, दुर्गा कॉलोनी, रेलवे रोड, झज्जर रोड, बड़ा बाजार, भिवानी स्टैंड, प्रेम नगर, सलारा मुहल्ला, डीएलएफ कॉलोनी, कच्चा चमारिया रोड, अनाज मंडी, रेलवे रोड मुहल्ला और आसपास की कॉलोनियां, हिसार रोड, सूर्य नगर, कायस्थान मुहल्ला, भगत ¨सह कॉलोनी, गोहाना अड्डा, सुखपुरा चौक आदि कॉलोनियों में पेयजल आपूर्ति प्रभावित हो गई। किला मुहल्ला निवासी रजनी, संजीव, सैनियान मुहल्ला निवासी हेमंत सैनी कहते हैं कि पानी की आपूर्ति ठीक तरीके हो।

भालौठ में अभी आठ दिन और होगी पानी की आपूर्ति

भालौठ नहर में अभी आठ दिन और पानी की आपूर्ति होगी। विभागीय अधिकारियों ने बताया कि पानी की किल्लत अभी आने वालों दिनों में नहीं होगी। भालौठ नहर के बाद जेएलएन नहर में पानी आएगा, जोकि अगले 16 दिनों तक चलेगा। विभागीय अधिकारी कहते हैं कि नहरी पानी आपूर्ति होने तक जलघर फुल किए जाएंगे।

-----------------

अभी भालौठ नहर से पेयजल आपूर्ति हो रही है। जेएलएन में भी थोड़ा पानी आ रहा है। करनाल के निकट कहीं भालौठ नहर टूट गई थी। इसलिए नहरी पानी की आपूर्ति नहीं हो रही थी। नहरी पानी नहीं मिला तो शहर की कॉलोनियों में पानी की आपूर्ति प्रभावित की गई। शुक्रवार से कोशिश करेंगे कि दोनों वक्त पानी आपूर्ति दोबारा से शुरू करें। क्योंकि नहरी पानी मिलना शुरू हो जाएगा।

भानु प्रकाश, एक्सईएन, जनस्वास्थ्य विभाग

--

मैंने इस प्रकरण में अधिकारियों से शिकायत की तब बताया गया कि नहरी पानी आना बंद हो गया है। नहरी पानी बंद तो सिर्फ तीन दिन पहले हुआ था। क्या जलघरों में इतना भी पानी नहीं था कि शहर की जनता को एक वक्त भी पानी मिले। अधिकारियों की लापरवाही जनता के लिए भारी पड़ रही है।

अभिषेक भटनागर, कायस्थान मुहल्ला।

Posted By: Jagran