संवाद सहयोगी, महम : क्षेत्र के खरकड़ा गांव में आरोपित को पकड़ने के लिए सोनीपत पुलिस घर के बाहर बैठी रही और आरोपित ने मकान के अंदर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। आरोपित छेड़छाड़ के मामले में जमानत पर आया हुआ था, जबकि उसी महिला ने उसके खिलाफ सोनीपत थाने में जान से मारने की धमकी का भी केस दर्ज करा रखा था। परिजनों का आरोप है कि महिला और उसके पति के अलावा तीन पुलिसकर्मी दुष्कर्म के आरोप में फंसाने की धमकी देकर पांच लाख रुपये की मांग कर रहे थे। महम थाने में पांचों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

खरकड़ा गांव निवासी 32 वर्षीय अनिल कुछ साल पहले कलानौर में केबल का काम करता था। करीब एक साल पहले कलानौर की एक महिला ने उसके खिलाफ छेड़छाड़ का मामला दर्ज कराया था। उसमें अनिल जमानत पर आया हुआ था। इसके बाद इसी महिला ने सोनीपत में जाकर सिटी थाने में दूसरा मामला दर्ज करा दिया कि अनिल ने उसे जान से मारने की धमकी दी है। मंगलवार तड़के करीब पांच बजे सोनीपत पुलिस के तीन पुलिसकर्मी अनिल को पकड़ने के लिए उसके घर पर पहुंचे, लेकिन अनिल ने दरवाजा नहीं खोला। इसके बाद पुलिसकर्मी घर के बाहर ही बैठ गए। करीब छह बजे पुलिसकर्मियों ने अंदर झांककर देखा तो वहां पर अनिल ने पंखे पर लटककर फांसी लगा ली थी। सूचना मिलने पर स्थानीय पुलिस भी मौके पर पहुंची और उसे नीचे उतारा, तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया। पुलिस ने तीन पुलिसकर्मियों और पति-पत्नी के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मृतक की मां ने लगाया आरोप

पुलिस के अनुसार, मृतक की मां जगवंती का आरोप है कि उक्त महिला पहले कलानौर में रहती थी। वहां पर छेड़खानी का झूठा आरोप लगाकर अनिल के खिलाफ केस दर्ज करा दिया। समझौते के नाम पर महिला और उसके पति ने करीब एक लाख रुपये भी ले लिए थे। इसके बाद महिला रोहतक और फिर सोनीपत में जाकर रहने लगी। सोनीपत के सिटी थाने में जान से मारने की धमकी देने का दूसरा मामला दर्ज करा दिया। अब लगातार अनिल पर दबाव बनाया जा रहा था कि वह पांच लाख रुपये दे, अन्यथा उसके खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज करा दिया जाएगा। अनिल की आर्थिक स्थिति इतनी ठीक नहीं थी कि वह पांच लाख रुपये दे सके। महिला के साथ-साथ उसका पति और तीन पुलिसकर्मी लगातार उसे ब्लैकमेल कर रहे थे। ब्लैकमेलिग से परेशान होकर ही अनिल ने यह कदम उठाया है। पत्नी ने भी फांसी लगाकर की थी आत्महत्या

पुलिस का कहना है कि अनिल की पत्नी ने भी कुछ साल पहले फांसी लगाकर आत्महत्या की थी। पत्नी की मौत के बाद वह अपने बच्चों के साथ रहता था। अनिल जमानत पर आया हुआ था। जिसे पकड़ने के लिए सोनीपत पुलिस आई थी। मृतक की मां ने आरोप लगाया है कि एक महिला और उसके पति समेत कई लोग उसे ब्लैकमेल कर रहे थे। फिलहाल मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। जांच में जो भी दोषी होगा उस पर कार्रवाई की जाएगी।

- सज्जन कुमार, डीएसपी महम

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप