जेएनएन, रोहतक। पंजाब के खेल मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढ़ी ने कहा कि एसवाइएल का मुद्दा कोई कश्मीर या पाकिस्तान का मुद्दा नहीं है। यह कोई राजनीतिक मुद्दा भी नहीं है और इसका समाधान हो सकता है। पंजाब में पानी की उपलब्धता के हिसाब से हरियाणा को पानी मिलना चाहिए। सोढ़ी भारतीय प्रबंधन संस्थान (आइआइएम) रोहतक में आयोजित कार्यक्रम में शिरकत करने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

राणा ने हरियाणा सरकार की खेल नीति की सराहना करते हुए कहा कि खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए बेहतर खेल नीति बनाई गई है। इसी तर्ज पर पंजाब में भी खेल नीति बनाई जाएगी। आगामी दो माह में इसकी घोषणा कर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि पंजाब में खिलाड़ियों को नौकरी, नकद अवार्ड और स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी बनाने पर काम हो रहा है।

पंजाब में युवाओं के नशे की गर्त में जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि नशे को खत्म करने के लिए कोई जादू की छड़ी नहीं है। मगर नशे की तस्करी पर रोक लगाई गई है। नशा पर अंकुश लगाने के बाद कुछ लोगों की मौत भी हुई है। नशे से बचाने के लिए युवाओं का दिमाग अन्य सकारात्मक कार्यों की तरफ किया जा रहा है।

आइआइएम रोहतक से निकलने वाले खेल प्रबंधकों से काफी उम्मीद

मंत्री राणा गुरमीत सिंह सोढी ने आइआइएम द्वारा उत्पादित स्नातकों की गुणवत्ता की सराहना करते हुए सोढ़ी ने कहा कि उन्हें आइआइएम रोहतक से निकलने वाले खेल प्रबंधकों से काफी उम्मीद है। वह इस पाठ्यक्रम के स्नातकों को जल्द ही भारतीय खेल में बदलाव लाते हुए देखने के लिए उत्सुक हैं।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt