जागरण संवाददाता, रोहतक : मुख्यमंत्री मनोहरलाल ने पुलिस लाइन में दो बैरक के निर्माण के लिए स्वीकृति दे दी है। करीब साढ़े तीन करोड़ रुपये की लागत से वित्तीय वर्ष 2018-19 में इन भवनों का निर्माण कराया जाएगा। सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर ने बताया कि बैरक का निर्माण होने के बाद पुलिसकर्मियों को काफी लाभ होगा।

उन्होंने बताया कि हरियाणा पुलिस आवास निगम के लिए वार्षिक बजट योजना में 410 करोड़ रुपए की राशि दी जा चुकी है। इस राशि में से 300 करोड़ रुपए भवन निर्माण के कार्य पर खर्च होंगे। 300 करोड़ रुपए में से 59.28 करोड़ रुपए पहले चरण में खर्च किये जाएंगे। पुलिस लाइन में दो नए बैरक बनाए जाएंगे। फिलहाल वहां पर चार पुरानी बैरक है, जो काफी जर्जर हो चुकी है। पुरानी बैरकों को तोड़कर उन्हें भी नए तरीके से बनाया जाएगा। तीन-तीन मंजिल की बनने वाली इन दोनों बैरक में कमरे, गलियारा और बालकॉनी आदि की सुविधा होगी। सहकारिता मंत्री ने बताया कि प्रदेश सरकार ने अपने अब तक के कार्यकाल में रोहतक में अनेक विकास कार्य कराएं हैं। शहर के बीचों-बीच 152 करोड़ रुपए की लागत से एलीवेटिड रोड का निर्माण कार्य कराया जा रहा है। वहीं 350 करोड़ रुपए की लागत से एलीवेटिड रेलवे ट्रेक का काम भी शुरू हो चुका है। इसके अलावा पुराने रोहतक शहर और बाहरी कॉलोनियों में सीवरेज व पानी के लिए 251 करोड़ रुपए की राशि मंजूर कराई गई है। 220 करोड़ रुपए खर्च करके शहर की सड़कों को बेहतर बनाया जाएगा।

Posted By: Jagran