मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, रोहतक : 1997 में हुए सिलसिलेवार बम धमाकों के आरोपित अब्दुल करीम टुंडा की शुक्रवार को भी अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश जसबीर सिंह की कोर्ट में पेशी नहीं हो सकी। कोर्ट ने अगली तारीख पर आरोपित को पेश करने के आदेश दिए हैं।

मामले के अनुसार, वर्ष 1997 में रोहतक में अलग-अलग स्थानों पर सिलसिलेवार तीन बम धमाके हुए थे। इसमें आठ लोग घायल हो गए थे। जांच पड़ताल के बाद इस मामले में अब्दुल करीम टुंडा को आरोपित बनाया गया था। वर्ष 2013 में दिल्ली पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। यह मामला तभी से कोर्ट में विचाराधीन है। अब्दुल करीम टुंडा फिलहाल गाजियाबाद जेल में बंद है। शुक्रवार को अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश जसबीर सिंह की कोर्ट में सुनवाई हुई, लेकिन टुंडा की पेशी नहीं हो सकी। कोर्ट ने अगली सुनवाई के लिए 11 जुलाई की तारीख दी है, जिस पर टुंडा को पेश करना होगा। गौरतलब है कि इससे पहले भी टुंडा को पेश होना था, लेकिन पुलिस की लापरवाही की वजह से पेशी नहीं हो सकी थी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप