जागरण संवाददाता, रोहतक : महम से निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू व उनके रिश्तेदारों के ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी को लेकर प्रदेश की कई खापों की मंगलवार को छोटूराम धर्मशाला में बैठक हुई। अध्यक्षता रोहतक खाप-84 के प्रधान हरदीप सिंह अहलावत ने की। खापों ने विधायक के ठिकानों पर छापेमारी को सरकार का षड्यंत्र बताया है। इस मामले में निदा प्रस्ताव पारित करते हुए किसान आंदोलन में जहां-जहां धरने चल रहे हैं, वहां सरकार के भेदभावपूर्ण रैवेये को रखने का निर्णय भी लिया।

खाप प्रतिनिधियों ने एक स्वर में कहा कि महम विधायक बलराज कुंडू के विरुद्ध की गई आयकर विभाग की छापेमारी के कारण समाज में सरकार के प्रति रोष व गुस्सा है। सरकार द्वारा की गयी यह कार्रवाई साफ तौर पर किसान आंदोलन में विधायक बलराज कुंडू की भागीदारी रोकने के लिए की गई है तथा यह छापेमारी सीधे-सीधे राजनीतिक षड्यंत्र एवं दुर्भावना तथा किसान आंदोलन में बढ़-चढ़कर भाग ले रहे कुंडू को रोकने के लिए करवाई गई। केंद्र व हरियाणा सरकार को चेतावनी दी गई कि इस प्रकार से दमनकारी नीतियां न अपनाएं और किसानों का साथ देने वाले विधायक के खिलाफ साजिश करके उसे दबाने की कोशिश न करे। अन्यथा परिणाम सही नहीं होगा। बैठक में तय किया गया कि हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश व दिल्ली की सभी खापों से इस मामले में संपर्क करके एकजुटता के साथ सरकार की इस दमनकारी नीति का विरोध करेंगे। साथ ही भाजपा नेताओं व मंत्रियों को काले झंडे दिखाए जाने के बाद लोगों पर दर्ज किए जा रहे मामलों पर भी नाराजगी जताई गई।

इस अवसर पर धनखड़ खाप-12 के प्रधान डा. ओमप्रकाश धनखड़, भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश उपाध्यक्ष सत्यवान नरवाल, प्रो. आत्मा नंद देशवाल, मास्टर जीत राम सुन्दरपुर, अठगामा खाप उपाध्यक्ष चत्तर सिंह कुंडू, अखिल भारतीय आदर्श जाट महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बनवाला खाप के डा. पवनजीत बनवाला, कुंडू खाप से जितेन्द्र कुंडू, हवा सिंह, देशवाल खाप से महा सिंह देशवाल, राजेन्द्र सिंह, रणबीर गद्दीखेड़ी, कप्तान सिंह, जगराम, बहु अठगामा प्रधान कर्मवीर, रणधीर सिंह मोर, कुलदीप फौगाट, राजेश धनखड़, आशीष, सुरेन्द्र, जलकरण बल्हारा, राजकुमार, रणबीर सिंह, राजेन्द्र सिंह, जसबीर मलिक, राकेश मलिक, देवेन्द्र सिंह, भगत सिंह आदि सहित अनेक खाप प्रतिनिधि मौजूद रहे।

Edited By: Jagran