जेएनएन, रोहतक। रोहतक में एक बार फिर निर्भया जैसी दरिंदगी सामने आई है। तिलियार में दोस्त के साथ घूमने आई नाबालिग लड़की का बाइक सवारों ने अपहरण कर लिया और अलग-अलग स्थानों पर ले जाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। हालत बिगडऩे पर देर रात उसे शीला बाईपास पर फेंककर फरार हो गए। पुलिस ने नाबालिग के दोस्त समेत चार आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि एक आरोपित अभी फरार है। डीएसपी ममता खरब की अगुवाई में एसआइटी मामले की जांच कर रही है।

मूलरूप से पश्चिम बंगाल की रहने वाली पीड़िता परिजनों के साथ रोहतक की एक कालोनी में रहती है। दो दिन पूर्व वह अपने दोस्त अजय के साथ तिलियार घूमने गई थी। अजय बिहार के आरा जिले के सिमरा गांव का निवासी है। तिलियार पर बाइक सवार युवकों ने दोनों के साथ मारपीट की और लड़की का अपहरण कर लिया।

आरोपित उसे बोहर गांव के जंगल में ले गए। वहां पर अपने एक अन्य दोस्त को भी बुला लिया। तीनों ने मिलकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। इसके बाद एक अन्य आरोपित वहां पहुंचा। वहां से वे उसे बोहर नाके के पास लाये और वहां फिर सामूहिक दुष्कर्म किया। हालत बिगडऩे पर देर रात लड़की को शीला बाईपास पर छोड़कर फरार हो गए। किसी तरह अपने घर पहुंची लड़की ने परिजनों को दरिंदगी की जानकारी दी।

गत दिवस परिजन पुलिस के पास पहुंचे। इसके बाद उसका मेडिकल कराया गया। अर्बन एस्टेट थाना पुलिस ने लड़की के दोस्त अजय के साथ-साथ अपहरण कर सामूहिक दुष्कर्म करने वाले आरोपित विपिन उर्फ मोनू, प्रवेश उर्फ सोनू, नीरज उर्फ नीटू निवासी बोहर को गिरफ्तार कर लिया। बोहर गांव का ही रहने वाला पांचवां आरोपित फिलहाल फरार चल रहा है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Kamlesh Bhatt