जागरण संवाददाता, रोहतक : जब हम किसी घटना या फिर किसी वस्तु को देखते हैं, तो उस समय सबसे पहले हमारे दिमाग में उससे जुड़ी कई प्रकार की छवि बन जाती है। विभिन्न प्रकार के दृश्यों को कागज पर उतार कर उसे हम सुंदर सा रूप प्रदान करते हैं। ठीक उसी तरह छात्राओं ने अपनी रचनात्मक सोच और काल्पनिक सोच से बहुत ही उमदा कार्टून बनाए हैं। यह सब बाते प्रो. बलजीत ¨सह ने कही। शुक्रवार को राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय के ललित कला विभाग में इंटर कॉलेज स्तर पर कार्टू¨नग प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। इस प्रतियोगिता की अध्यक्षता प्रो. दीपांजलि ने की। उन्होंने छात्राओं द्वारा बनाए गए विभिन्न प्रकार कार्टून की जमकर तारीफ की। कार्टून प्रतियोगिता में विभिन्न विभाग की छात्राओं ने अपनी कला के माध्यम से अपनी कार्टू¨नग की प्रतिभा को दिखाया। प्राचार्या डा. आशा अहलावत ने दीप प्रवज्जलित कर कार्यक्रम की शुरूआत की। छात्राओं को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि इस क्षेत्र में काफी स्कोप है। बस जरूरत है तो आपकी कलात्मक सोच की।

थीम के माध्यम से दिखाई छात्राओं ने प्रतिभा

कार्टू¨नग प्रतियोगिता में छात्राओं ने अलग-अलग सेंसटिव टॉपिक्स को कार्टून के माध्यम से मजेदार ढंग से बनाकर प्रदर्शित किया। थीम के अनुसार छात्राओं ने क्रप्शन, नोक-झोंक, जीएसटी को लेकर लोगों के कंफ्यूजन, डिमोनेटाइजेशन में कैश क्राइसिस जैसे टॉपिक भी कार्टून बनाए और अपनी प्रतिभा और कला को प्रस्तुत किया। कार्टून प्रतियोगिता में प्रथम स्थान पर महिमा, द्वितीय स्थान हिमांशी और तृतीय स्थान शीतल ने प्राप्त किया।

Posted By: Jagran