जागरण संवाददाता, रोहतक : भारती कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में दसवीं की परीक्षा में मोबाइल के साथ पकड़े गए आरोपित छात्र ने कई खुलासे किए। पुलिस पूछताछ में सामने आया है कि छात्र ने कई साल से पढ़ाई छोड़ रखी थी, जो अब दसवीं पास कर नौकरी करना चाहता था। प्रश्न पत्र के फोटो खींचकर बाथरूम के बहाने बाहर आकर दोस्त को मोबाइल थमाना था।

बता दें, कि काठमंडी के भारती कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में शनिवार को बोर्ड की दसवीं की परीक्षा थी। इसी बीच बीईओ वीरेंद्र मलिक की फ्लाइंग टीम ने कमरा नंबर आठ में परीक्षा दे रहे छात्र 25 वर्षीय र¨वद्र निवासी कच्ची गढ़ी को मोबाइल के साथ पकड़ लिया था। आरोपित छात्र मोबाइल से फोटो खींच रहा था। परीक्षा केंद्र अधीक्षक संजय कुमार की तरफ से शिवाजी कॉलोनी थाने में आरोपित छात्र के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू की। इस दौरान छात्र ने बताया कि वह पढ़ाई में काफी कमजोर था। इस वजह से कुछ साल पहले पढ़ाई छोड़कर मजदूरी शुरू कर दी थी, लेकिन नौकरी के लिए दसवीं पास होना जरूरी था। इसीलिए उसने ओपन से दसवीं का फार्म भरा था। दसवीं में पास होने के लिए ही वह मोबाइल लेकर परीक्षा केंद्र में पहुंचा था, जिससे वह नकल कर सके। मोबाइल में फोटो कर बाथरूम के बहाने बाहर आता और वहां पर मौजूद अपने दोस्तों को मोबाइल दे देता। इसके बाद दोस्त पेपर हल कर खिड़की के माध्यम से छात्र तक नकल पहुंचाते। पुलिस ने आरोपित को कोर्ट में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

इन पेज के कर चुका था फोटो

छात्र के पास प्रश्न पत्र सेट-बी के कोड संख्या 3501 का पेपर था। मोबाइल चेक करने पर पता चला कि उसने प्रश्न पत्र के 4, 5, 2, 2, 7, 6, 5, 5 के फोटो खींचे हुए थे। हालांकि अभी तक यह स्पष्ट नहीं कहा जा सकता है कि छात्र ने किसी को यह फोटो भेज दिए थे या फिर नहीं। हालांकि छात्र मना कर रहा है कि उसने फोटो नहीं भेजे थे, लेकिन पुलिस अपने स्तर से छानबीन कर रही है।

ड्यूटी सुपरवाइजर पर गिरी गाज, परीक्षा ड्यूटी से हटाया

परीक्षा कक्ष में छात्र के पास से मोबाइल मिलने के बाद मामले में ड्यूटी सुपरवाइजर पंकज भाटिया पर कार्रवाई की गई है। बीईओ वीरेंद्र मलिक ने बताया कि मोबाइल मिलने के मामले में ड्यूटी सुपरवाइजर की लापरवाही सामने आई है। इस वजह से उन्हें परीक्षा ड्यूटी से हटा दिया गया है। बाकी जांच की जा रही है। अगर और भी कोई इस मामले में शामिल मिलता है तो उसके खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जाएगी।

-------------------

छात्र को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया है। छात्र के पास से बरामद हुआ था, जिसकी जांच पड़ताल की जा रही है। परीक्षा में पास होने के लिए वह पेपर में मोबाइल लेकर गया था।

- बलराज, जांच अधिकारी जनता कॉलोनी पुलिस चौकी

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप