अरुण शर्मा, रोहतक

हाथों के हुनर वालों को आर्थिक तंगी से नहीं जूझना होगा। अब सहकारिता विभाग स्टार्टअप यानी खुद का काम शुरू करने में मदद करेगा। स्वरोजगार शुरू करने के लिए सहकारिता विभाग में ऑनलाइन पंजीकरण कराना होगा। सरकार आपको पांच लाख रुपये तक की आर्थिक मदद देगी। खेतीबाड़ी, सिलाई, खेलों के अलावा अचार-पापड़ तक का काम शुरू करने से लेकर प्लंबर, रंगाई-पुताई जैसे छोटे कार्य तक शुरू करने में मदद पा सकेंगे। मछली पालन, स्वास्थ्य सेवाओं जैसे योग केंद्र तक खोलने में सरकार आपकी मदद करेगी। जरूरत पड़ने पर हरको फैड के माध्यम से काम की शुरुआत के टिप्स ले सकेंगे। खेलों में रुचि रखने वाले खोल सकेंगे क्लब

आप खेलों में रुचि रखते हैं तो क्लब संचालित कर सकेंगे। खिलाड़ियों को प्रशिक्षण देने या फिर दूसरी खेल गतिविधियों के संचालन के लिए सरकार मदद करेगी। सरकार खेल उपकरण के साथ ही कार्यालय में जरूरी सामान व दूसरी आर्थिक मदद भी देगी। खास बात यह है कि क्लब में कम से कम 11 सदस्य होने चाहिए। मल्टीपर्पज को-ऑपरेटिव सोसाइटी के लिए करा सकेंगे पंजीकरण

ऑनलाइन पंजीकरण मल्टीपर्पज को-ऑपरेटिव सोसाइटी के लिए पंजीकरण करा सकेंगे। इस श्रेणी में खुद का काम शुरू करने के लिए पंजीकरण करा सकेंगे। उदाहरण के तौर पर गांवों में सफाई कार्य, सरकारी-गैर सरकारी सर्वे कार्य, पौधरोपण, लेबर-कंट्रक्शन, फल-सब्जियों का कारोबार शुरू कर सकेंगे। इनके अलावा साबुन, अचार, बिस्किट, कंप्यूटर प्रशिक्षण, स्वास्थ्य संबंधित सेवाएं, बच्चों को पढ़ाने से लेकर, तमाम प्रकार के सर्वे आदि प्रमुख सभी छोटे-बड़े कार्य शामिल हैं। जिन जिलों के रहने वाले, वहीं होगा रजिस्ट्रेशन

हरियाणा में आप जिस जिले के रहने वाले हैं उसी जिले में स्टार्टअप शुरू करने के लिए पंजीकरण करा सकेंगे। जो कार्य शुरू करना चाहते हैं उन्हें आर्थिक मदद और दूसरा ब्योरा भी देना होगा। वहीं, रिहायशी प्रमाण-पत्र, पहचान-पत्र, फोटो की जरूरत होगी। सभी सदस्यों को सहकारी बैंक में खाता खुलवाकर कम से कम 500-500 रुपये भी जमा कराने होंगे। सहकारी बैंक ही आर्थिक मदद देंगी। दो एससी, एक महिला के साथ ही कम से कम 11 सदस्य शामिल करने होंगे। इस वेबसाइट पर ऑनलाइन पंजीकरण करा सकेंगे

डब्ल्यूडब्ल्यूडब्ल्यू डॉट सीओओपी ऑनलाइन डॉट आरसीएस हरियाणा डॉट जीओवी डॉट इन -- सहकारिता विभाग की कोशिश है कि जिनके पास स्किल है, उन्हें खुद का कारोबार शुरू करने में मदद दी जाए। जिन्हें रोजगार को लेकर परेशानी है, उनके लिए भी यह योजना कारगर है। अब योजना का लाभ उन्हीं को मिलेगा, जोकि ऑनलाइन आवेदन करेंगे।

नरेंद्र कुमार, सहायक रजिस्ट्रार, सहकारी समितियां, रोहतक

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस