जागरण संवाददाता, रोहतक :

गौड़ ब्राह्मण शिक्षण महाविद्यालय के स्टाफ एवं विद्यार्थियों ने रेडक्रास द्वारा संचालित अर्पण संस्थान का दौरा किया। इस दौरान विद्यार्थियों ने विभिन्न अशक्तियों से मुक्त बच्चों से मुलाकात की। विद्यार्थियों ने संस्थान द्वारा अपनाए जाए रहे विभिन्न पहलुओं के बारे में जानने का प्रयास किया। जिनसे की इस प्रकार के बच्चों को सामाजिक रूप से सशक्त बनाया जा सके। संस्थान की अध्यक्षा नीलम कटारिया ने विद्यार्थियों को विभिन्न शिक्षण विधियों एवं उपकरणों की जानकारी दी, जिनका प्रयोग विशेष विद्यार्थियों को पढ़ाने में किया जाता है। उन्होंने कहा कि कोई भी शारीरिक कमी या दुर्बलता इंसान को आगे बढ़ने से नहीं रोक सकती। हम इस प्रकार के बच्चों को समाज का अभिन्न अंग मानकर उन्हें आगे बढ़ने में उनका साथ देना चाहिए। ये भी समाज की मुख्य धारा में अपना अहम योगदान देते हैं। इस अवसर पर गौड कॉलेज से डा. गीता रानी ने भी विद्यार्थियों को वैज्ञानिक एवं मनोवैज्ञानिक पहलुओं से अवगत कराया। सभी विद्यार्थियों ने अपने-अपने अनुभव भी साझा किए। कार्यक्रम में डा. मोना मल्होत्रा, सोन किरण, अंजू वर्मा, चंद्रकांता, मीनाक्षी, रमा एवं अन्य उपस्थित रहे।

Posted By: Jagran