जागरण संवाददाता, रोहतक : जिला परिषद के चेयरमैन पद की शपथ लेने से पहले नवनिर्वाचित चेयरमैन सतीश भालौठ ने भाजपा का पटका पहना। हुडा काम्प्लेक्स स्थित भाजपा प्रदेश कार्यालय में पूर्व सहकारिता राज्य मंत्री मनीष ग्रोवर के साथ पहुंचे। सतीश ने कहा कि वह 1998 में भाजपा के मंडल अध्यक्ष पद पर रह चुके हैं, इसलिए उनकी एक तरह से घर वापसी हुई है। भाजपा प्रदेश कार्यालय से जिला विकास भवन पहुंचे। विकास भवन के सभागार में जिला उपायुक्त आरएस वर्मा ने चेयरमैन पद की शपथ दिलाई।

बता दें कि जिला परिषद के चेयरमैन सतीश भालौठ को दोपहर एक बजे चेयरमैन पद की शपथ लेनी थी। जिला विकास भवन में शपथ ग्रहण से पहले पूर्व मंत्री ग्रोवर की कार में बैठकर भाजपा प्रदेश कार्यालय में नवनिर्वाचित चेयरमैन सतीश पहुंचे। इनके साथ भाजपा नेता शमशेर खरखड़ा व दूसरे पार्टी के नेता भी थे। पार्टी प्रदेश कार्यालय में भाजपा का पटका पहनाया। पत्रकारों की तरफ से पूछे गए सवाल पर सतीश ने बताया कि बीते साल लोकसभा चुनाव के दौरान मैंने कांग्रेस का सिर्फ पटका पहना था, कांग्रेस की सदस्यता नहीं ली। यह भी दावा किया कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस का पटका एक रिश्तेदार के दबाव में पहना था। वहीं, शपथ ग्रहण समारोह के बाद सतीश ने जिला परिषद कार्यालय में पहुंचकर अपना पदभार भी ग्रहण किया। प्रेसवार्ता में पूर्व सहकारिता राज्य मंत्री मनीष ग्रोवर, मेयर मनमोहन गोयल, भाजपा नेता शमशेर खरखड़ा, जिलाध्यक्ष अजय बंसल, भाजपा जिला मीडिया प्रभारी शमशेर खरक आदि मौजूद रहे। शपथ ग्रहण समारोह में जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अमरदीप सिंह के अलावा विभिन्न पंचायतों के सरपंच, प्रतिनिधि आदि मौजूद रहे। सात का अंक सतीश भालौठ के लिए रहा लकी

शपथ ग्रहण समारोह के दौरान इस बात की जबरदस्त चर्चा रही कि चेयरमैन सतीश भालौठ के लिए सात का अंक किस तरह से लकी साबित हुआ। कार्यक्रम के दौरान बताया गया कि भालौठ वार्ड-7 नंबर से जिला पार्षद हैं। सातवें नंबर के जिला परिषद चेयरमैन और शपथ ग्रहण भी दिन के सातवें दिन यानी शुक्रवार को हुआ। इस बात को लेकर सतीश के लिए जबरदस्त तालियां बजीं। जब प्रेसवार्ता में जाने से शमशेर खरखड़ा ने राहुकाल का हवाला देकर रोका

दोपहर के करीब 11.50 बजे जब जिलाध्यक्ष अजय बंसल पहुंच गए तो मेयर मनमोहन गोयल ने कहा कि चलें प्रेसवार्ता कर लें। मेयर अपनी कुर्सी से उठकर शमशेर खरखड़ा व अन्य भाजपाईयों से चलने के कहने लगे। इसी बात पर खरखड़ा ने कहा अभी राहुकाल चल रहा है, 12 बजने दें। फिर थोड़ी देर बाद ऐसा ही हुआ। फिर से शमशेर ने कहा अभी वक्त है। 12 बजे के बाद सभी प्रेसवार्ता के लिए निकले। इसी के बाद प्रेसवार्ता शुरू हो सकी। कुछ जिला पार्षदों का दावा, हमें कोई सूचना नहीं मिली

जिला परिषद के कुछ पार्षदों ने दावा किया है कि उन्हें शपथ ग्रहण को लेकर कोई सूचना नहीं दी गई। जिला पार्षद दिनेश करौंथा ने दावा है कि चेयरमैन कार्यालय या फिर जिला परिषद के अधिकारियों की तरफ से शपथ ग्रहण की कोई सूचना मुझे नहीं मिली। वर्जन

मेरा कार्यक्षेत्र बहुत बड़ा है। प्रशासन से मेरी यह गुजारिश है कि वह बजट मुहैया कराए जिससे विकास कार्य तेजी से हो सकें।

सतीश भालौठ, जिला परिषद चेयरमैन प्रशासन की नजर में सभी जिला पार्षद बराबर होने चाहिए। शपथ ग्रहण समारोह को लेकर हमें कोई सूचना नहीं दी गई, इसलिए हम समारोह में आए नहीं।

राजीत, जिला पार्षद, जिला परिषद

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस