जागरण संवाददाता, रोहतक : डेंगू के मामलों का जिले में ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। सामान्य अस्पताल में सोमवार को डेंगू जांच नहीं हो सकी। ओपीडी समय तक डेंगू जांच में काम आने वाले एलाइजा किट नहीं पहुंच सकी। देर शाम को हिसार से 10 एलाइजा किट सामान्य अस्पताल में पहुंची। अब अगले तीन से चार दिन तक यहां पर डेंगू की जांच हो सकेगी। एक किट में 90 से 96 तक सैंपल की जांच हो सकती है। ऐसे में करीब 900 लोगों की जांच तक परेशानी नहीं आएगी।

डेंगू के सात नए केस

जिले में डेंगू के हर रोज नए मामले आ रहे हैं। सोमवार को भी सात नए केस आए। जिले में अब डेंगू केसों की संख्या 108 हो गई है। सोमवार को आए केसों में शहर के माडल टाउन, पटेल नगर, विकास नगर, सुखपुरा चौक, सुभाष नगर व चुलियाना गांव में एक-एक केस दर्ज किया गया। पिछले दो माह के दौरान पीजीआइ में भी 100 से अधिक केस आ चुके हैं।

-40 घरों में मिला डेंगू लार्वा

स्पेशल माइक्रो प्लान के तहत सोमवार को धोबी मोहल्ला, डेयरी मोहल्ला, संजय नगर, न्यू राजेंद्र नगर, हनुमान कालोनी, चांद नगर, बसंत विहार, श्रीनगर, भरत कालोनी, जगदीश कालोनी, शीतल नगर में एंटी लारवा एक्टिविटी का प्रोग्राम चलाया। जिसमें 40 घरों में लारवा पाया गया। अभी तक रोहतक जिले में 4733 लोगों को नोटिस जारी किए जा चुके हैं, जो गत वर्ष 3775 थे।

-----------

सोमवार को हिसार से दस एलाइजा जांच किट मंगवा दी गई हैं। अब 900 सैंपल तक जांच में किसी प्रकार की परेशानी नहीं आएगी। अब जल्द ही और एलाइजा जांच किट मंगवा दी गई हैं। डेंगू के लक्षण आने पर मरीजों का तुरंत इलाज शुरु कर दिया जाता है।

डा. जेएस पूनिया, सीएमओ, रोहतक।

Edited By: Jagran