रोहतक, जेएनएन। जननायक जनता पार्टी के नेता दुष्‍यंत चौटाला आजकल गांवों के दौरे पर हैं। इस दौरान वह बेहद खास अंदाज में दिख रहे हैं। वह अपने परदादा पूर्व उपप्रधानमंत्री चौधरी देवीलाल के अंदाज में लोगों के घरों में जाते हैं और संवाद करते हैं। वह रात्रि में गांवों में ही रुकते हैं। दुष्यंत चौटाला का ऐसा ही अंदाज जिले के गांव बहुजमालपुर दिखा। वह गांव में ही रात को रुके और सुबह एक घर में चूल्‍हे के पास बैठकर नाश्‍ता किया। नाश्‍ते में रोटी के संग उनको लाल मिर्च की चटनी और लस्‍सी खूब भायी।

बता दें कि दुष्‍यंत चौटाला आजकल गांवों के दौरे पर हैं। इस कार्यक्रम को 'गांव यात्रा' का नाम दिया गया है। यह कार्यक्रम 24 जुलाई को शुरू हुआ था। इस अभियान के तहत दुष्‍यंत चौटला रोहतक जिले के गांव बहुजमालपुर पहुुंचे और गांव में ही रात्रि ठहराव किया। वह देर रात तक कार्यकर्ताओं से बतियाए और सुबह उठकर सीधे खेल के ग्राउंड में पहुंच गए, जहां खिलाड़ियों व युवाओं से चर्चा की। इतना ही नहीं उनके साथ ग्राउंड में ही अभ्यास भी किया।

दुष्यंत चौटाला रात को पार्टी कार्यकर्ता सुरेंद्र बल्हारा के घर पहुंचे। दुष्यंत चौटाला ने पार्टी कार्यकर्ता के घर अपनी रात बिताई। उनके सोने के लिए देहाती अंदाज में चारपाई पर दरी बिछाई गई थी। इससे पहले उन्होंने कार्यकर्ता के घर ही साधारण दाल- रोटी, छोले का भोजन किया। मेहमाननवाजी के तौर पर दुष्यंत के लिए सूजी का हलवा भी परोसा गया।

यह भी पढ़ें: फिल्‍म एक्‍टर राहुल बोस के ट्वीट का बड़ा असर, दो केले के 442 रुपये वसूलने पर होटल को नोटिस

सुबह जन-चौपाल कार्यक्रम शुरू करने से पहले दुष्यंत ने बहुअकबरपुर गांव में एक कार्यकर्ता राजेश के घर में चूल्हे के पास बैठ कर नाश्ता किया। नाश्ते में मिस्सी रोटी-कढ़ी, मक्खन के साथ परोसी गई लाल मिर्च की चटनी और लस्सी दुष्यंत को खूब भायी। दूसरे दिन दुष्यंत चौटाला ताऊ देवीलाल की राजनीतिक कर्मभूमि महम हलके के गांव मोखरा पहुंचे। महिलाओं ने आशीर्वाद दिया। यहां दुष्‍यंत ने गिलास में दूध पिया।

यह भी पढ़ें: मां की ममता हुई कम ताे बच्‍चों ने उठाया बड़ा कदम, फिर आंसुओं की धार में जागा प्‍यार

दुष्यंत से संवाद के दौरान मोखरा गांव की महिलाओं का दर्द भी झलका। उन्होंने दुष्यंत के संग अपनी तकलीफ को साझा करते हुए कहा कि पीने के पानी की बड़ी समस्या है। दो किलोमीटर तक दूर जाकर पानी लाना पड़ता है। महिलाओं ने कहा कि युवाओं को रोजगार न मिलने के कारण वे पथभ्रष्ट हो रहे हैं। गंदे पानी की निकासी नहीं है और गांव में गंदगी फैली रहती है। दुष्यंत ने महिलाओं को विश्वास दिलवाया कि मौका आने दो, आपके घरों में आरओ का पानी पहुंचाऊंगा। इसके बाद दुष्यंत लाखनमाजरा पहुंचे और कार्यकर्ताओं से मुलाकात की।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस