संवाद सहयोगी, सांपला : क्षेत्र के पाकस्मा गांव में मंदिर में रहने वाले बाबा की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। सुबह के समय बाबा मंदिर परिसर में खून से लथपथ पड़ा मिला। जिसने उपचार के दौरान पीजीआइ में दम तोड़ दिया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मृतक के भाई की शिकायत पर सांपला थाना पुलिस ने अज्ञात आरोपितों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

पाकस्मा गांव निवासी 52 वर्षीय सतबीर पुत्र रामपत अविवाहित था, जिसने गांव के बाहर अपने प्लाट में काली मां का मंदिर बना रखा था और वहीं पर अकेला रहता था। मंगलवार सुबह उसके भाई रणबीर का बेटा चाय देने के लिए मंदिर में पहुंचा, जहां पर बाबा खून से लथपथ पड़ा था। उसके सिर और आंखों में चोट मारी गई थी और मुंह से भी खून से निकल रहा था। आनन-फानन में परिवार के अन्य लोग और ग्रामीण वहां पहुंचे, जिसके बाद बाबा को उपचार के लिए पीजीआइ में लाया गया। वहां पर उपचार के दौरान बाबा ने दम तोड़ दिया। सूचना मिलने पर सांपला थाना पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की छानबीन शुरू की। एफएसएल इंचार्ज डा. सरोज मलिक दहिया को भी मौके पर बुलाया गया। एफएसएल ने घटनास्थल का मौका मुआयना किया। इसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। फिलहाल पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। यह उठ रहे सवाल

बाबा की हत्या के पीछे कई सवाल भी खड़े हो रहे हैं। बाबा के सिर और आंखों पर चोट मारी गई थी, जिस समय सुबह उसका भतीजा वहां पहुंचा वह दर्द से तड़फ रहा था। ऐसे में सवाल यह है कि यदि किसी को उसकी हत्या करनी थी तो वह उसी समय मौत के घाट उतार देता। दूसरा सवाल यह है कि मंदिर से कोई सामान भी चोरी नहीं हुआ है। परिवार के लोगों ने भी किसी के साथ रंजिश होने से इंकार किया है। ऐसे में आखिर किसने बाबा की हत्या की यह पुलिस के लिए भी चुनौती बनी है। जांच में सामने आया कि बाबा शाम के समय अपने किसी जानकार के पास से आया था। वारदात के पीछे नजदीकियों का हाथ भी माना जा रहा है। पुलिस सभी तथ्यों पर गहनता से जांच में जुटी है। पिछले साल जून माह में समचाना में हुई थी बाबा की हत्या

सांपला क्षेत्र में बाबा की हत्या का यह पहला मामला नहीं है। पिछले साल जून माह में समचाना गांव निवासी 65 वर्षीय धर्मबीर उर्फ सतबीर ईटों से वार कर हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने मौके से ईंट भी बरामद की थी। धर्मबीर गांव के बाहर खेत में कमरा बनाकर रहता था, जो खुद को साधू बताता था। वर्जन

सतबीर गांव के बाहर मंदिर में रहता था, जो सुबह के समय घायल अवस्था में मिला था। फिलहाल उसके भाई की शिकायत पर हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

- इंस्पेक्टर कुलबीर सिंह, थाना प्रभारी सांपला -----------------

विनीत तोमर

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप