जागरण संवाददाता, रोहतक :

हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने शुक्रवार को जिला जनसंपर्क एवं कष्ट निवारण समिति की बैठक ली थी। जिसमें केवल 14 शिकायतें रखी गई थी। लेकिन 375 ऐसी शिकायतें मौके पर पहुंची, जो अनसुनी रह गई थी। बेशक, शिकायतें विज तक नहीं पहुंची, लेकिन दरबार में पहुंची सभी शिकायतों पर सुनवाई की प्रक्रिया शुरू हो गई है। मंत्री के आदेश पर देर रात एक बजे तक सभी शिकायतों को अलग रजिस्टर में दर्ज किया गया ताकि उनको संबंधित विभागों में भेजकर निर्धारित समयावधि में निपटारे की प्रक्रिया शुरू की जा सके।

बता दें, कि जिला जनसंपर्क एवं कष्ट निवारण समिति की बैठक के दौरान गृहमंत्री अनिल विज के पास शिकायत करने वालों की जमावड़ा लग गया था। जिला विकास सदन हॉल खचाखच भर गया। ऐसे भी काफी लोग थे, जो हॉल के अंदर तक नहीं जा सके। समिति में रखी गई शिकायतों को पूरी गंभीरता से सुना गया, जिसके कारण समय अधिक लग गया। जिसके कारण मंत्री आमजन की शिकायतें नहीं सुन सके। भीड़ भी ज्यादा थी, जिसके कारण सभी से मिलना संभव भी नहीं था। ऐसी स्थिति में मंत्री ने जिला उपायुक्त को सभी शिकायतें लेकर अलग से रजिस्टर में दर्ज करने के आदेश दिए। जिला प्रशासन ने आदेशों की पालना करते हुए शिकायतों को देर रात तक रजिस्टर में दर्ज करने का काम किया। बताया जाता है कि 375 शिकायतें दर्ज की गई है। लेकिन ऐसे भी कुछ लोग थे, जिनकी शिकायतें प्रशासनिक अधिकारियों तक भी नहीं पहुंची। यह मंत्री का खौफ ही था कि अधिकारी आधी रात तक शिकायतों को दर्ज करने में जुटे रहे। छंटनी कर संबंधित विभाग में भेजी जाएगी शिकायतें

जिला उपायुक्त के आदेश पर मंत्री अनिल विज की बैठक के दौरान पहुंची शिकायतों के लिए अलग से रजिस्टर बनाया गया है। रजिस्टर में दर्ज की गई शिकायतों की छंटनी का काम किया जा रहा है कि ताकि जिस भी विभाग से संबंधित है, उसे वहीं पर कार्रवाई के लिए भेजा जा सके। इतना ही नहीं शिकायतों पर कार्रवाई के लिए संबंधित विभागों के अधिकारियों को समयावधि निर्धारित की गई है। आगामी बैठक में मंत्री इन शिकायतों की स्टेट्स रिपोर्ट भी ले सकते हैं। मंत्री अनिल विज की बैठक में पहुंचे सभी फरियादियों की शिकायतें अधिकारियों ने ली हैं। जितनी भी शिकायतें पहुंची है, उनके लिए अलग से रजिस्टर बनाकर दर्ज किया गया है। संबंधित विभाग में भेजने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है।

आरएस वर्मा, जिला उपायुक्त, रोहतक

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस