जागरण संवाददाता, रोहतक : शहरी क्षेत्र में एक बार फिर से बंदर पकड़ने का अभियान बंद हो गया है। पिछले करीब एक माह से गर्मी का बहाना बनाकर अभियान पूरी तरह से बंद कर दिया। शहरी क्षेत्र से 3600 बंदर पकड़ने का कार्य होना था। हिसार में बंदर पकड़ने का कार्य कर चुकी एक निजी एजेंसी को यह कार्य सौंपा गया है। फिलहाल शहरी क्षेत्र में बंदर पकड़ने का अभियान पूरी तरह से बंद है। हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के सेक्टरों के साथ ही बाजारों व दूसरे स्थानों पर बंदरों का आतंक बढ़ता जा रहा है। नहरी क्षेत्र के सहारे की कालोनी वालों को भी मुश्किलें हो रही हैं।

यहां बता दें कि कुछ माह पहले बंदर पकड़ने के लिए अभियान शुरू हुआ था। अभी तक बताया जा रहा है कि करीब 275 बंदर पकड़े जा चुके हैं। जून के महीने में बढ़ती गर्मी को बड़ा कारण बताते हुए निजी एजेंसी ने अभियान बंद कर दिया। इसके पीछे तर्क दिया गया कि भीषण गर्मी में बंदरों को पकड़ना दोहरा नुकसान हो सकता है। एक तो गर्मी के कारण बंदर पहले से ही बेहाल रहते हैं, दूसरा कारण यह भी है कि बंदरों का स्वभाव आक्रामक हो जाता है। पानी आसपास न होने की स्थिति में सेहत को भी नुकसान हो सकता है। यही कारण रहा कि अभियान बंद कर दिया है। फिलहाल सेक्टर-1, सेक्टर-2 के अलावा बोहर, सेक्टर-1 हाउसिग बोर्ड, सेक्टर-6, सेक्टर-5 आदि स्थानों पर बंदरों का आतंक बढ़ने से लोग परेशान हैं। इनके साथ ही शहर के प्रमुख बाजारों, अनाज मंडी, सब्जी मंडी व दूसरे कई स्थानों पर भी परेशानी हो रही है। पार्षदों ने की शिकायत, कहा नहरों के निकट सेक्टर, इसलिए परेशानी ज्यादा

वार्ड-11 के पार्षद कदम सिंह अहलावत के अलावा बोहर के पार्षद जयभगवान, वार्ड-10 के पार्षद राहुल देशवाल के अलावा दूसरे पार्षदों का दावा है कि नहरी क्षेत्र होने के कारण संबंधित कालोनी वालों को परेशानी हो रही है। वार्ड-11 के पार्षद कदम सिंह का दावा है कि सेक्टर-1 और सेक्टर-2, हाउसिग बोर्ड आदि नहर के सहारे बसे हुए हैं। बंदर अक्सर नहर के सहारे ही बैठे रहते हैं। फिर सेक्टरों में आ जाते हैं, इसलिए दोबारा से अभियान शुरू कराया जाए। जिससे लोगों को राहत मिले। हमारे संज्ञान में आ चुका है कि बंदर पकड़ने का अभियान बंद हो चुका है। इसलिए हमने नगर निगम के अधिकारियों से कहा है कि अभियान दोबारा से शुरू कराया जाए।

मनमोहन गोयल, मेयर, नगर निगम

--

भीषण गर्मी के दौरान अभियान चलाना मुश्किल भरा होता है। इसलिए अभियान बंद किया गया था। मेरी कोशिश है कि इसी सप्ताह के अंदर फिर से अभियान शुरू करा देंगे।

अजीत कुमार, ठेकेदार

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप