जागरण संवाददाता, रोहतक : पीजीआइ में रविवार को 30 हेल्थ केयर वर्कर कोरोना संक्रमित पाए गए। जिसमें से 12 चिकित्सक, चार छात्र, छह स्टाफ नर्स, चार पैरामेडिकल स्टाफ, तीन मिनिस्ट्रियल स्टाफ व एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी शामिल हैं। वहीं पीजीआइ में रविवार को दो लोगों की मौत हो गई। रविवार को 17 नए मरीज पीजीआइ में आए, जिसके बाद भर्ती मरीजों का आंकड़ा भी 66 हो गया है। भर्ती मरीजों में से 14 आक्सीजन पर, एक हाइ फ्लो आक्सीजन व चार वेंटिलेटर पर हैं। हालांकि दस मरीज रविवार को पीजीआइ में स्वस्थ होकर घर भी लौटे।

354 सैंपल में 184 मिले संक्रमित

जिले में कोविड-19 के 519 सैंपल जांच के लिए भेजे गए, जिनमें से 184 व्यक्ति पॉजिटिव पाए गए, जबकि 165 सैंपल का परिणाम आना शेष है। कोरोना संक्रमण दर 4.52 प्रतिशत व रिकवरी दर 93.35 प्रतिशत हो गई है। जिले में अब तक कोविड-19 के छह लाख 49 हजार 768 सैंपल लिए गए हैं, जिनमें से 29376 सैंपल पाजिटिव पाए गए तथा छह लाख 20 हजार 227 सैंपल निगेटिव पाए गए। इनमें से उपचार के बाद 27443 व्यक्ति स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके है। जिला में वर्तमान में कोविड-19 का 1366 सक्रिय मरीज है, जिनमें से 11 मरीज अस्पताल में व बाकी सभी मरीज डाक्टरों की सलाह पर घर पर उपचार ले रहे हैं।

घट रही टीकाकरण की रफ्तार

टीकाकरण अभियान की रफ्तार अब कम होने लगी है। जिले में रविवार को केवल 302 व्यक्तियों को कोरोना रोधी टीका लगाया गया। इनमें से 109 व्यक्तियों को प्रथम डोज तथा 173 व्यक्तियों को दूसरी डोज लगाई गई। हेल्थ केयर वर्कर को अब तक 26252 डोज, फ्रंटलाइन वर्कर को 16447 डोज, 15 से 17 आयु वर्ग में 28399 डोज लगाई जा चुकी है। 18 से 44 आयु वर्ग में 866789 डोज, 45 से 60 आयु वर्ग में 299000 डोज व 60 वर्ष या इससे अधिक आयु वर्ग में 233650 डोज लगाई जा चुकी है।

-20 लोगों को लगाई बूस्टर डोज

रविवार को 20 बूस्टर डोज भी लगाई गई है। जिनमें से 10 कोविशील्ड तथा 10 कोवैक्सीन बूस्टर डोज शामिल हैं। हेल्थ केयर वर्कर को चार कोविशील्ड की बूस्टर डोज लगाई गई। फ्रंटलाइन वर्कर को तीन कोविशील्ड की बूस्टर डोज लगाई गई। इसी प्रकार 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों को तीन कोविशिल्ड तथा दस कोवैक्सीन की बूस्टर डोज लगाई गई है।

Edited By: Jagran