जागरण संवाददाता, रोहतक : गन्ने का बकाया भुगतान करने और बिजली के नलकूप कनेक्शन देने सहित तमाम मांगों के लिए किसानों ने मंगलवार को प्रदर्शन कर धरना दिया। अखिल भारतीय किसान सभा के जिला इकाई की अगुवाई में किसान लघु सचिवालय के बाहर धरने पर बैठे। धरने की अध्यक्षता सभा के जिला अध्यक्ष प्रीत सिंह ने की।

किसानों का कहना है कि जब तक मांगें पूरी नहीं होगी तब तक धरना जारी रहेगा। इसके साथ ही किसानों ने ट्रैक्टर की सब्सिडी जारी करने व बर्बाद हुई फसलों के मुआवजा देने की मांग भी की है।

किसान सभा के जिला सचिव सुमित सिंह व कोषाध्यक्ष बलवान सिंह ने कहा कि प्रशासन किसानों की समस्याओं को हल नहीं कर रहा है। जिस कारण किसान सभा ने उपायुक्त कार्यालय के बाहर धरना शुरू किया है। इन समस्याओं से अनेक बार प्रशासन को पहले भी अवगत करा चुके हैं लेकिन प्रशासन का इस ओर कोई ध्यान नहीं है। शुगर मिल में गन्ना पिराई बंद हुए लगभग दो माह बीत चुके हैं लेकिन किसानों का करोड़ों का भुगतान नहीं किया गया है। ट्रैक्टर की लाखों रुपये की सब्सिडी बकाया है और बर्बाद हुई फसलों का पिछले तीन साल से मुआवजा नहीं जारी किया जा रहा है। इन सब मांगों के पूरा न होने से किसानों में रोष है।

धरने में किसान सभा राज्य उपप्रधान इंदरजीत सिंह, किसान सभा जिला उपप्रधान जोगेंद्र बनियानी व कैप्टन शमशेर मालिक, सर्व कर्मचारी संघ जिला सह सचिव प्रेम घिलोडिया, एसएफआइ राज्य सचिव सुरेंद्र घनघस व अर्जुन, पीटीआइ शिक्षकों ने अपना समर्थन दिया। इस मौके पर सुनील खरावड़, अशोक राठी, सुंदर, समुंद्र चिड़ी, रामकिशन नोनंद, राजकुमार, अनिल खरावड़, आंनद मायना, संदीप कटवाड़ा आदि ने मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस