संवाद सहयोगी, महम :

महम से निर्दलीय विधायक बलराज कुंडू ने एक बार फिर भ्रष्टाचार एवं किसानों की समस्याओं को लेकर प्रदेश सरकार पर तीखा हमला बोला। कुंडू ने कहा कि मुख्यमंत्री ईमानदारी का मुखौटा लगाकर घूम रहे हैं, लेकिन जनता अब हकीकत को जान चुकी है। बरौदा उपचुनाव में सरकार को जनता औकात बता देगी। वे शनिवार को पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

विधायक कुंडू ने कहा कि चंडीगढ़ पुलिस ने एक युवक को वाहन चोरी के मामले में गिरफ्तार किया है। उक्त युवक महम के ही बड़े भाजपा नेता का काम देखता है। चंडीगढ़ पुलिस ने मामले को उजागर किया है, लेकिन कुछ नेता इस मामले को दबवाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले की निष्पक्षता से किसी स्वतंत्र एजेंसी या सीबीआइ से जांच होनी चाहिए।

एक सवाल के जवाब में विधायक कुंडू ने कहा कि प्रदेश में आज किसान एवं मजदूर ही नहीं बल्कि कर्मचारी और छोटे व्यापारी व दुकानदार आदि सभी वर्ग बुरी तरह तंग आ चुके हैं। सरकार की गलत नीतियों के कारण किसान बर्बादी की कगार पर आ खड़ा हुआ है। उन्होंने कहा कि सरकार की संवेदनहीनता देखिए आज तक किसानों की गन्ने, गेहूं व सरसों की फसलों की पूरी पेमेंट भी नही की गई है।

बलराज कुंडू ने नौकरी से बर्खास्त किए गए पीटीआइ के मामले में कहा कि अदालत के नाम का सहारा लेकर खट्टर सरकार इन जेबीटी टीचरों के परिवारों को उजाड़ना चाहती है, जिसे किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। उन्होंने बताया कि इस मामले में वे पहले भी सीएम और शिक्षा मंत्री को पत्र लिख चुके हैं और वे बर्खास्त पीटीआइ के आंदोलन का समर्थन करते हैं। विधायक बलराज कुंडू ने चीन और भारत के बॉर्डर पर हुई 20 फौजी भाइयों की शहादत का बदला लेने की अपील भी प्रधानमंत्री मोदी से की और कहा कि इस मामले में कोई राजनीति नहीं होनी चाहिए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस