मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

संवाद सहयोगी, महम : फरमाणा चुंगी के पास वार्ड-2 में नगर पालिका की खाली जमीन पर आधा दर्जन से अधिक लोगों ने अवैध कब्जा कर लिया। इन्होंने अपने-अपने हिस्से का बंटवारा करते हुए ईंटें मंगाकर दीवार निकाल ली। यह आरोप शहरवासियों ने लगाया है। उनका कहना है कि नगर पालिका की खाली जमीन पर पिछले तीन दिनों से अवैध कब्जा हो रहा है। ये सब प्रधान व अन्य अधिकारियों की मिलीभगत के बिना संभव नहीं है। पूरे मामले की नगर पालिका अधिकारियों को जानकारी है। बावजूद इसके कोई रोक टोक नहीं हो रही।

सैनी धर्मशाला के पीछे गली में नगर पालिका की एक हजार गज से अधिक जमीन पिछले कई सालों से खाली पड़ी हुई है। तीन दिन पहले आसपास के लोगों ने एकमत होकर खाली जमीन के हिस्से कर उस पर कब्जा जमा लिया। बाद में उस पर दीवार बनवानी शुरू कर दी। शहर के लोगों का कहना है नगर पालिका की करोड़ों रुपये की जमीन शहर के विभिन्न हिस्सों में है। एक साल पहले बीडीपीओ कार्यालय के साथ इसी तरह नगर पालिका की जमीन पर अवैध कब्जा कर लिया गया जिसे अभी तक नहीं छुड़वाया गया है। अब वार्ड-2 में जमीन कब्जा ली गई। उन्होंने उच्च अधिकारियों से कब्जा करने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई कर जमीन को छुड़वाने की मांग भी की है। नौ के खिलाफ नोटिस जारी : विरेंद्र

इस संबंध में बिल्डिग इंस्पेक्टर विरेंद्र हुड्डा ने बताया कि नौ के खिलाफ नोटिस जारी कर दिया है। किसी भी कीमत पर नगर पालिका की जमीन पर अवैध कब्जा नहीं होने दिया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप