वरिष्ठ संवाददाता, रोहतक : करौंथा स्थित सतलोक आश्रम के संचालक रामपाल की बुधवार को हत्या और हत्या के प्रयास मामले में कोर्ट में पेशी थी लेकिन हाजिरी माफी के चलते रामपाल कोर्ट में पेश नहीं हुए। कोर्ट ने अगली पेशी 21 दिसंबर निर्धारित की है।

विदित रहे कि जुलाई 2006 में करौंथा सतलोक आश्रम के अनुयायी और आर्य समाज के लोगों के बीच खूनी संघर्ष हुआ था। इस खूनी संघर्ष में एक युवक की मौत हो गई थी जबकि दर्जनों लोग घायल हो गए थे। सदर थाना पुलिस ने इस मामले में सतलोक आश्रम के संचालक रामपाल दास सहित करीब तीन दर्जन अनुयायियों के खिलाफ हत्या, हत्या का प्रयास व अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज कर किया था। आरोपियों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया, जहां लंबे समय से सभी आरोपी न्यायिक हिरासत में रहे। बाद में रामपाल दास व अन्य आरोपियों को जमानत मिल गई थी। यह मामला इसी दिन से कोर्ट में विचाराधीन है। रामपाल दास की पेशी के दौरान हजारों अनुयायियों के कोर्ट परिसर में पहुंचने से बिगड़ने वाली स्थित को देखते हुए कोर्ट ने रामपाल दास को पेशी पर हाजिर होने में माफी मिली हुई है। बुधवार को कोर्ट में पेशी थी, जिसमें जिला एवं सत्र न्यायाधीश सुभाष गोयल ने अगली तारीख 21 दिसंबर निर्धारित कर दी।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर