अमित सैनी, रेवाड़ी

मुझे विश्वास था, मैं जीतूंगी और कोरोना हारेगा। मेरे विश्वास की जीत हुई, इस कठिन परिस्थिति में मेरा साथ देने वाले परिवार की जीत हुई तथा भगवान के सामने अरदास करने वाले मेरे अपनों की दुआ की जीत हुई। यह कहना है शहर के सेक्टर चार निवासी शशि चावला का। 8 मई को कोरोना पॉजिटिव पाई गई शशि चावला जिले की पहली ऐसी मरीज है, जो ठीक होकर अपने घर लौटी हैं। 16 दिनों के बाद घर लौटी शशि चावला ने सबसे पहले अपने पोते भूमिक व पोती मून को सीने से लगाया तो स्नेह के आंसू बरबस ही निकल पड़े। 50 वर्षीय शशि चावला की कोरोना पर जीत कई मायनों में बड़ी है। रोजाना पीती थीं 1 लीटर काढा 8 मई को जिले में कोरोना पॉजिटिव के एक साथ तीन केस पाए गए थे। सेक्टर चार निवासी शशि चावला इनमें से ही एक थी जो अपनी ही बिल्डिंग में रहने वाली एक संक्रमित महिला के संपर्क में आने से कोरोना की चपेट में आ गई थी। सैंपल लेने के लिए 7 मई को ही उनको नागरिक अस्पताल में भर्ती कर लिया गया था। पॉजिटिव पाए जाने के पश्चात 9 मई को शशि चावला को नूंह के नल्हड़ मेडिकल कॉलेज में उपचार के लिए रेफर कर दिया गया था। वहां 14 दिनों तक उनका उपचार चला और शुक्रवार को रात सवा 12 बजे शशि अपने घर लौटी है। शशि बताती हैं कि कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद एक बार तो उनको व पूरे परिवार को झटका लगा था लेकिन उन्होंने हिम्मत नहीं हारी। पति अशोक चावला, बेटे रोहित व पुत्रवधू नुपूर रोजाना हौसला बढ़ाते थे कि मुझे कुछ नहीं होगा। मुझे भी पूरा विश्वास था कि मैं ठीक होकर ही घर लौटूंगी। दैनिक जागरण से बातचीत में शशि चावला ने बताया कि मेडिकल कॉलेज में उनको बेहतरीन उपचार दिया गया तथा बेहद अच्छा खानपान व देखरेख उनकी वहां पर हुई। उन्होंने बताया कि सुबह 4 बजे ही उन्हें चाय-बिस्किट मिल जाते थे और 7 बजे नाश्ता दे दिया जाता था। दिनभर में तीन वक्त भोजन और रात को सोने से पहले दूध भी दिया जाता है। एक बेहतरीन चीज, जो उन्होंने बताई वह यह है कि रोजाना सुबह कोरोना संक्रमित हर मरीज को 1 लीटर काढ़े की बोतल दी जाती है। यह काढ़ा उन्हें शाम तक खत्म करना होता है। इसके अतिरिक्त गर्म पानी ही पिलाया जाता है। शशि का कहना है कि 16 दिन अस्पताल में बिताना आसान नहीं था लेकिन मैं हर कोरोना पेशेंट से यही कहना चाहती हूं कि अगर मन को मजबूत कर लेंगे और विश्वास रखेंगे तो कोरोना हमारा कुछ भी नहीं बिगाड़ सकता। हमारे विश्वास के सामने कोरोना कुछ भी नहीं है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस