जागरण संवाददाता, रेवाड़ी: राजा मिहिर भोज की जयंती के उपलक्ष्य में यहां के कसौला चौक स्थित अदिति फार्म पर गुर्जर प्रतिभा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। लगभग 500 बेटियों को गुर्जर समाज ने सम्मानित किया। समारोह का मुख्य आकर्षण कार्यक्रम में पहुंची प्रतिभाशाली बेटियों का मंच से संबोधन रहा। बेटियों ने कहा कि गुर्जर समाज की सबसे

बड़ी बेड़ी अशिक्षा की है। अगर समाज का सहयोग मिले तो इस बेड़ी को तोड़ने में हम सक्षम हैं। बेटियों के सहयोग मांगने के आह्वान पर विभिन्न स्थानों से आए गुर्जर सरदारों ने हाथ खड़े करके समाज से अशिक्षा का अंधेरा दूर करने का संकल्प लिया।

प्रतिभा सम्मान समारोह में बानसूर की विधायक शकुंतला रावत, नांगल चौधरी से पूर्व विधायक फूसाराम की पुत्रवधू मंजू चौधरी, गुर्जर आरक्षण आंदोलन के प्रवक्ता डा. रूप ¨सह, दिल्ली के नगर निगम पार्षद राजकुमार, गुर्जर सभा के प्रधान

अशोक पहलवान, कसौली से राम¨सह व जगदीश गुर्जर, कैलाश सिराधना, राजपाल सरपंच, राजेश पहलवान, चरण ¨सह, सरपंच बिजेंद्र, राजेश एडवोकेट, प्रताप ¨सह, गुर्जर घटाल से लक्खी सरपंच, उपराव प्रधान कोटकासिम, राजाराम

उधनवास, कमल ¨सह खेड़ा मुरार सहित आसपास के गांवों के कई गुर्जर प्रतिनिधि मौजूद थे। शकुंतला रावत व अन्य सभी

वक्ताओं ने सामाजिक एकता पर बल दिया। पलवल सहित विभिन्न स्थानों से आई बेटियों ने आज मंच पर अपना दबदबा

दिखाया और समाज के गणमान्य लोगों को पढ़ाई पर ध्यान देने की बड़े लोगों की तरह नसीहत दी। अशोक पहलवान ने

सभी का धन्यवाद दिया। प्रमुख वक्ताओं ने राजा मिहिर भोज के जीवन पर विस्तार से प्रकाश डाला।

-------

बावल में भी हुआ आयोजन

संवाद सहयोगी, बावल: यहां के रतीराम पार्क में गुर्जर समाज विकास सभा की ओर से कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कर्नल जीआर चौकन ने मिहिर भोज के चित्र पर पुष्प अर्पित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। उन्होंने युवाओं से समाज

की मजबूती के लिए एकजुट होकर सामाजिक कुरीतियों का विरोध करने का संदेश दिया। बने¨सह खेड़ा मुरार के संचालन

में आयोजित कार्यक्रम में जिला पार्षद धर्मेंद्र खटाणा, प्रधान कालूराम, पूर्व नगरपालिका चेयरमैन चंद्रपाल चौकन, रामौतार गुर्जर, रामू, पप्पू ¨सह, धारा, गोवर्धन, शीशराम, रामबीर, बब्बल माजरी, बलबीर, जयमल, अर्जन एडवोकेट, सुमेर भूड़ला, सुखराम, प्रेम ¨सह, किशन व सुनील कुमार सहित समाज के कई गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Posted By: Jagran