नई दिल्ली/रेवाड़ी [महेश कुमार वैद्य]। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के मुखिया लालू प्रसाद यादव के लाल तेजस्वी यादव बृहस्पतिवार को दिल्ली की एलेक्सिस (राजश्री) संग वैवाहिक बंधन में बंध जाएंगे। वैसे तेजस्वी यादव की दुल्हन राजश्री मूलरूप से पश्चिम बंगाल के कोलकाता की रहने वाली हैं। वहीं, तेजस्वी यादव और राजश्री के शादी समारोह को बेहद गोपनीय रखा गया है। इसके साथ ही दिल्ली में हो रही शादी में मेहमानों की संख्या भी सीमित रहेगी। पारिवारिक सूत्रों के मुताबिक, फिलहाल मेहमानों की संख्या को 50 के आसपास बताई जा रही है। अंतिम समय में मेहमान की संख्या में इजाफा भी हो सकता है। बताया जा रहा है कि निकट संबंधी व खास मेहमान बृहस्पतिवार को ही दिल्ली पहुंचेंगे तथा तेजस्वी व उनकी होने वाली दुल्हन राजश्री को आशीर्वाद देंगे। राजश्री और तेजस्वी में काफी पहले से निकटता है। दोनों एक-दूसरे को काफी पहले से जानते हैं। बताया जा रहा है कि शादी के लिए कई महीनों से बातचीत चल रही थी, जो दिसंबर में जाकर फाइनल हुई है।

सुबह आई हरियाणा से रेवाड़ी जुड़े होने के बात

बता दें कि बुधवार सुबह तेजस्वी यादव की होने वाली दुल्हन के हरियाणा के रेवाड़ी से जुड़े होने की बात आई, लेकिन शाम होते-होते पता चला कि उनका रेवाड़ी से कोई खास रिश्ता नहीं है। 

दिल्ली की रहने वाली हैं तेजस्वी की दुल्हन

तेजस्वी की दुल्हन बनने वाली राजश्री दिल्ली की रहने वाली है, हालांकि वह मूलरूप से पश्चिम बंगाल के कोलकाता की रहने वाली हैं। दो-दो राज्यों से ताल्लुक रखने वाला वर-वधू का परिवार इस शादी को गोपनीय रखना चाहता है। ऐसे में शादी समारोह में केवल नजदीकी रिश्तेदार ही शामिल होंगे। तेजस्वी के जीजा चिरंजीव राव पूर्व मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव के बेटे हैं। तेजस्वी और राजश्री की शादी में शामिल होने के लिए पूर्व मंत्री कैप्टन अजय सिंह यादव, उनकी धर्मपत्नी शकुंतला यादव, रेवाड़ी विधायक व तेजस्वी के जीजा चिरंजीव राव और तेजस्वी की बहन अनुष्का उर्फ धन्नो रेवाड़ी से रवाना हो चुके हैं। शादी को लेकर नजदीकी रिश्तेदार भी कुछ नहीं बोल रहे हैं।

एक ही दिन होगी सगाई-शादी

मिली जानकारी के मुताबिक, शादी बेहद गोपनीय रखी जा रही है। ऐसे में सगाई का कार्यक्रम नहीं रखा गया है। सगाई भी शादी से कुछ देर पहले ही होगी। बता दें कि 32 वर्षीय तेजस्‍वी यादव बिहार के उप मुख्‍यमंत्री भी रह चुके हैं। पिछले साल हुए बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में उन्होंने जनता-दल यू और भाजपा गठबंधन को कड़ी देते हुए राजद को राज्य में विधायकों की संख्या के लिहाज से नंबर वन पार्टी बना दिया। इसके बावजूद वह सरकार बनाने में नाकामयाब रहे।

दिल्ली में हो रही लालू यादव के छोटे बेटे की शादी, हरियाणा वाले समधी बोले 'हमें तो पता नहीं'

Edited By: Jp Yadav