रेवाड़ी [महेश कुमार वैद्य]। लचर संगठन के साथ विधानसभा चुनाव में उतरी कांग्रेस का पूरा जोर अब अपनी कमजोरियों को दूर करने पर है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं को कार्यकर्ताओं से इस बात का फीडबैक मिल चुका है कि संगठन कमजोर होने के कारण इस बार सत्ता हाथ से निकल गई। फीडबैक के बाद पंजादल की पूरी ऊर्जा इसी कमजोरी को दूर करने में लगेगी। पार्टी पुराने सहयोगी संगठनों को ताकतवर बनाकर अपनी जड़ों की ओर लौटेगी। सेवादल को फिर से सक्रिय किया जाएगा। बूथ इकाइयों के गठन पर पूरा जोर दिया जाएगा। पार्टी के वरिष्ठ नेता यह मान रहे हैं कि अगर बूथ स्तर पर मजबूत संगठन होता तो इस बार मनोहरलाल के नाम दूसरी पारी नहीं होती।

कांग्रेस इस बार कई विधानसभा सीटें बहुत कम अंतर से हारी है। हालांकि ऐसा भाजपा के साथ भी हुआ, परंतु पार्टी का यह मानना है कि भाजपा का जमीनी स्तर पर संगठन कांग्रेस से कहीं ज्यादा मजबूत था। प्रचार के मामले में भी भाजपा कांग्रेस से आगे थी। विपरीत परिस्थितियों के बावजूद मिली 31 सीटों पर जीत से कांग्रेस को दिन बदलने की उम्मीद बंध गई है।

सैलजा के लिए वरदान

चुनाव परिणाम कांग्रेस की प्रदेशाध्यक्ष कुमारी सैलजा के लिए वरदान साबित हुए। पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा की शक्ति ने उनके नेतृत्व को ताकत देने का काम किया। कुमारी सैलजा से पहले प्रदेशाध्यक्ष की कमान अशोक तंवर के हाथ में थी, मगर तब और अब में फर्क है। तब भूपेंद्र सिंह हुड्डा और अशोक तंवर के बीच छत्तीस का आंकड़ा था। अब सैलजा और भूपेंद्र सिंह हुड्डा के बीच कोई टकराव नहीं है। सैलजा पूर्व सीएम के खास बेल्ट में व्यक्तिगत जनाधार को व अन्य क्षेत्रों में उनके साथ निष्ठा रखने वाले नेताओं के जनाधार को पार्टी हित में इस्तेमाल करने की रणनीति पर आगे बढ़ रही हैं। सैलजा अब बूथ इकाइयों तक पूरा जोर लगाएगी। जनवरी 2020 से पार्टी सदस्यता अभियान की शुरुआत करने जा रही है।

इस सबको लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कैप्टन अजय सिंह यादव कहते हैं कि कोई फर्जीवाड़ा नहीं होगा। सदस्यों की सूची हकीकत होगी। देखते जाइए, कांग्रेस कितनी मजबूती से आगे बढ़ती है और पार्टी के सारे संगठन किस तरह ताकतवर बनकर उभरते हैं।

वहीं, कुमारी सैलजा (प्रदेशाध्यक्ष, हरियाणा) का कहना है कि हम भविष्य पर ध्यान दे रहे हैं। किसी भी संगठन की रीढ़ उसके कार्यकर्ता होते हैं। जनवरी-2020 से हम सदस्यता अभियान शुरू करने जा रहे हैं। सिर्फ सेवादल को सक्रिय करने की बात नहीं है। कांग्रेस से जुड़ा हर संगठन मजबूत करना हमारा लक्ष्य है। कांग्रेस ने राष्ट्र व राज्य के लिए जो किया है वह सबके सामने है। अतीत के अच्छे कामों से ही भविष्य की राह निकलेगी। कांग्रेस का पूरा जोड़ अपनी जड़ों को मजबूत करने पर रहेगा। जिस भवन की नींव सुदृढ़ होगी उस पर खड़ी होने वाली इमारत भी मजबूत होगी।

दिल्ली-एनसीआर की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां पर करें क्लिक

 

Posted By: JP Yadav

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस