रेवाड़ी, जागरण संवाददाता। बावल के ज्योतिबा फूले पार्क में बनी करीब 200 फीट ऊंची पानी की टंकी पर चढ़े सांड को प्रशासन ने नीचे उतार लिया है। सांड को नीचे उतारने में प्रशासन को पसीने छूट गए। करीब तीन घंटे तक चले रेस्क्यू के बाद सांड को क्रेन की मदद से सुरक्षित नीचे उतार लिया गया। सांड के सुरक्षित नीचे उतार लेने के बाद अधिकारियों ने भी राहत की सांस ली।

मामले में जनस्वास्थ्य विभाग की लापरवाही भी सामने आई है।यहां बता दें कि रात को पानी की टंकी पर लगा दरवाजा खुला हुआ था और सांड अंदर घुस गया। सांड सीढियो से पानी की टंकी पर चढ़ गया, परंतु ऊपर जगह कम होने के कारण वापस नीचे नहीं उतर पाया।

सुबह लोगों ने सांड को पानी की टंकी पर चढ़ा देखा तो पुलिस व दमकल विभाग को सूचना दी। सूचना के बाद पुलिस, नगर पालिका व दमकल विभाग की टीमें भी मौके पर पहुंच गई। सांड को उतारन के लिए क्रेन बुलाई गई। करीब तीन घंटे की मशक्कत के बाद दोपहर एक बजे सांड को नीचे उतार लिया गया।

बता दें कि अभी हाल में ही यूपी के गाजियाबाद जिले में भी एक साड़ मकान की छत पर रात में चढ़ गया था। जब लोगों ने सुबह देखा तो प्रशासन को जानकारी दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस और दमकल विभाग की टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद उसे नीचे उतारा।

 

Posted By: Mangal Yadav

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप