जागरण संवाददाता, रेवाड़ी : प्रदेश सरकार द्वारा शहरी क्षेत्र में रहने वाले लोगों को संपत्ति कर के ब्याज में जो छूट दी गई है, उससे जिले की 52 हजार व्यवसायिक व रिहायिश यूनिट को लाभ मिलेगा। सीधे तौर पर ब्याज माफ होने से शहरवासियों को बड़ी राहत मिली है। वहीं नप की ओर से इस साल का संपत्ति कर जमा कराने वालों को भी 10 प्रतिशत की छूट दी जाएगी। ब्याज को लेकर लंबे समय से चल रही थी लड़ाई

संपत्ति कर पर लगाए गए ब्याज को लेकर लंबे समय से लड़ाई चल रही थी। विशेष तौर पर सेक्टरवासी इस मामले को उठा रहे थे। शहरभर में 52 हजार के लगभग व्यवसायिक व रिहायशी यूनिट को संपत्ति कर के दायरे में शामिल किया गया है। नगर परिषद की ओर से सर्वेक्षण कराकर वर्ष 2010 से लेकर अब तक का संपत्ति कर ब्याज सहित लोगों पर डाल दिया गया था। वर्ष 2018 से लोग संपत्ति कर पर लगाए गए ब्याज को लेकर लड़ाई लड़ रहे थे। इसका बड़ा कारण यह था कि संपत्ति कर के लिए सर्वेक्षण नगर परिषद की ओर से नहीं कराया गया तथा ब्याज आम जनता पर थोंप दिया गया। इसके अतिरिक्त सेक्टरवासियों के लिए बड़ा मुद्दा यह था कि शहर के सेक्टर हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण से नगर परिषद को हेंडओवर वर्ष 2016 में हुए थे जबकि उनसे भी प्रोपर्टी टैक्स ब्याज सहित वर्ष 2010 से ही लगाया गया है। सेक्टरवासियों को हालांकि अभी 2016 से ही टैक्स जमा कराने की छूट नहीं मिली है लेकिन ब्याज माफी से निश्चित तौर पर बड़ी राहत जरूर मिल गई है। ऐसा इसलिए क्योंकि संपत्ति कर की मूल राशि से कई गुणा अधिक तो ब्याज ही लगाया गया था। पिछला कर जमा कराने वालों को इस साल मिलेगी छूट

संपत्ति कर को लेकर एक और बड़ा निर्णय लिया गया है। चालू वित्त वर्ष का संपत्ति कर जमा कराने वालों के लिए भी दस प्रतिशत छूट का प्रावधान किया गया है। हालांकि इसमें एक शर्त यह रखी गई है कि चालु वर्ष के संपत्ति कर पर यह छूट तभी मिलेगी जब पीछे का सारा बकाया संपत्ति कर भर दिया जाएगा। कार्यालय आने की जरूरत नहीं, ऑनलाइन करें

नप की ओर से व्यवस्था की गई है कि अब लोगों को अपना संपत्ति कर जमा कराने के लिए नप कार्यालय आने की आवश्यकता नहीं है। नगर परिषद की वेबसाइट एमसीरेवारी डाट ओआरजी पर संपत्ति कर की डिटेल उपलब्ध है तथा ऑनलाइन ही पेमेंट भी की जा सकती है। वेबसाइट से रसीद भी प्राप्त हो जाएगी।

-----

संपत्ति कर पर शत प्रतिशत ब्याज राशि में छूट दे दी गई है। वर्तमान वित्त वर्ष का संपत्ति कर जमा कराने पर दस प्रतिशत की भी छूट है। लोग इस छूट का लाभ उठाते हुए समय पर अपना संपत्ति कर जमा करें।

-मनोज कुमार, कार्यकारी अधिकारी नगर परिषद रेवाड़ी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप