जागरण संवाददाता, रेवाड़ी: राज्य सरकार के मेयर का चुनाव सीधे करवाने के फैसले का नेताओं व पार्षदों ने स्वागत किया है। सभी का मानना है कि इससे भ्रष्टाचार कम होगा। इससे निगम पार्षदों की खरीद-फरोख्त पर अंकुश लगेगा। कुछ उत्साही लोग यह भी मांग कर रहे हैं कि नगर परिषद व नगर पालिकाओं में भी प्रधान का चुनाव सीधे जनता द्वारा ही किया जाना चाहिए। जिला परिषद की प्रधान मंजूबाला का यहां तक कहना है कि बेहतर हो अगर पंचायती राज संस्थाओं में भी यह फैसला लागू कर दिया जाए।

-----------

किसने क्या कहा:

मेयर पद के लिए सीधे चुनाव का फैसला बहुत अच्छा है। सरकार को अब जिला परिषद व पंचायत समितियों में भी यही फार्मूला अपनाना चाहिए। इससे राजनीति में सुधार होगा।

-मंजूबाला, जिला प्रमुख

------------

मेयर का चुनाव सीधे करवाना अच्छा कदम है, लेकिन इसके साथ ही सरकार को नगर परिषद व नगर पालिकाओं में भी यही नियम लागू करना चाहिए।

-विजय राव, पूर्व प्रधान, नगर परिषद-रेवाड़ी

-------

मैं सरकार के मेयर का चुनाव सीधे जनता द्वारा करवाने का स्वागत करती हूं। यह बहुत अच्छा कदम है। इससे पार्षदों की खरीद-फरोख्त रुकेगी।

-विनीता पिप्पल, पूर्व प्रधान, नगर परिषद-रेवाड़ी

---

कांग्रेसी नेताओं ने किया स्वागत

आमतौर पर विपक्ष सरकार के विरोध की भाषा बोलता है, लेकिन इस मामले में मनोहर सरकार को कांग्रेस की भी तारीफ मिल रही है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कैप्टन अजय ¨सह यादव ने कहा कि सरकार का फैसला सही है, लेकिन अधूरा है। सरकार को यही नियम सीनियर डिप्टी मेयर, डिप्टी मेयर, नगर परिषद, नगर पालिका, जिला परिषद व पंचायत समितियों में भी लागू करना चाहिए।

कांग्रेसी नेता वेदप्रकाश विद्रोही ने कहा कि प्रदेश में नगर निगम मेयर का चुनाव सीधे मतदाताओं द्वारा करवाने के हरियाणा सरकार के निर्णय का स्वागत करता हूं। इससे मेयर चुनाव में अब तक होती रही पार्षदों की खरीद-फरोख्त व राजनीतिक हस्तक्षेप रुकेगा।

-----

मेयर का सीधा चुनाव प्रजातंत्र को मजबूत करने वाला कदम है। इससे पार्षदों के खरीद फरोख्त पर रोक लगेगी तथा नेताओं का हस्तक्षेप भी बंद हो जाएगा। इस फैसले का मैं स्वागत करता हूं।

-मेजर टीसी राव, संयोजक ग्रामीण उत्थान भारत निर्माण।

Posted By: Jagran