जागरण संवाददाता, रेवाड़ी: दिल्ली-जयपुर हाईवे पर शाहजहांपुर बार्डर के पास धरनास्थल से 26 जनवरी को किसान हजारों ट्रैक्टरों के साथ रवाना होंगे। किसानों की ओर से ट्रैक्टर रैली की सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। बार्डर पर सोमवार शाम तक ट्रैक्टरों के पहुंचने का सिलसिला जारी रहा। मंगलवार की सुबह भी राजस्थान से हजारों की संख्या में ट्रैक्टर पहुंचेंगे।

कांग्रेस की ओर से आंदोलन को समर्थन दिया जा रहा है। राजस्थान से कांग्रेस के मंत्री व विधायक भी ट्रैक्टर रैली में शामिल होंगे। 26 जनवरी को कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के शाहजहांपुर बार्डर से रैली में शामिल होने की संभावना है।

आंदोलनकारी किसान बार्डर पर सुबह 9 बजे तिरंगा फहराने के बाद दस बजे रवाना होंगे। प्रशासन की ओर से शाहजहांपुर बार्डर से 1500 ट्रैक्टर व 500 गाड़ियों की अनुमति दी गई है। शाहजहांपुर बार्डर व मसानी बैराज से किसान रैली में करीब दो हजार ट्रैक्टरों के शामिल होने की संभावना है। 26 जनवरी को राजस्थान के श्रम राज्यमंत्री टीकाराम जूली भी ट्रैक्टर पर किसानों के साथ बार्डर पर पहुंचेंगे तथा रैली में शामिल होंगे।

केरल, महाराष्ट्र राजस्थान, आंध्रप्रदेश, उप्र, गुजरात, हरियाणा व पंजाब आदि राज्यों के किसान रैली में शामिल होंगे। किसानों ने अपनी ट्रालियों पर अलग-अलग झांकी तैयार की हैं। सोमवार को बार्डर पर सभा को हनुमान शर्मा, ओम मोहन लाल, मुरारी लाल, धर्मेंद्र अहमद, पूर्णाराम आदि ने संबोधित किया। किसानों की ट्रैक्टर रैली सीधे जयपुर-दिल्ली हाइवे पर धारूहेड़ा, बिलासपुर व पचगांव से होते हुए पालिटेक्निक संस्थान मानेसर तक जाएगी तथा वापस शाहजहांपुर बार्डर पर ही पहुंचेगी। पुलिस की सलाह: न करें दिल्ली-जयपुर हाईवे पर सफर

किसान रैली को देखते हुए जिला पुलिस ने भी एडवाइजरी जारी कर लोगों से 26 जनवरी को दिल्ली-जयपुर हाईवे पर यात्रा करने से बचने के लिए कहा है। हजारों ट्रैक्टरों के कारण हाईवे पर जाम की स्थिति बनना निश्चित है तथा इस दौरान भारी पुलिस बल भी मौजूद रहेगा।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021