जागरण संवाददाता, रेवाड़ी : रक्षाबंधन पर बस स्टैंड पर भीड़ का फायदा उठा कर दो महिलाओं ने बस में चढ़ रही एक महिला के गले से सोने की चेन तोड़ ली। चेन तोड़ने वाली एक महिला को बस स्टैंड पर ही काबू कर लिया गया। पकड़ी गई आरोपित महिला जिला महेंद्रगढ़ के गांव बास की रहने वाली गीता है। बस स्टैंड चौकी पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पुलिस को दी शिकायत में जिला गुरुग्राम के गांव पलड़ा की रहने वाली पूनम ने कहा है कि वह रक्षाबंधन पर जिला महेंद्रगढ़ के गांव पलड़ा स्थित अपने मायके आई थी। 12 अगस्त को वह अपने दस वर्षीय बेटी लवी व पांच वर्षीय बेटे हर्ष के साथ बस में वापस पलड़ा लौट रही थी। बस स्टैंड पर वह बस का इंतजार रही थी, इसी दौरान दो महिलाएं उसके आस-पास मंडराने लगी। वह गुरुग्राम जाने वाली बस में चढ़ने लगी तो भीड़ में वही दोनों महिलाएं उसके आगे-पीछे खड़ी हो गई। बस में चढ़ने के बाद उनके गले से सोने की चेन गायब थी और आगे-पीछे खड़ी दोनों महिलाएं भी बस में नही थी। पीड़िता ने पकड़ी आरोपित महिला पूनम ने गले से चेन तोड़ने की सूचना अपने स्वजन व पुलिस को दी और बस स्टैंड पर दोनों महिलाओं की तलाश शुरू की। तलाश करने के दौरान पूनम ने दोनों महिलाएं वही घूमती हुई दिखाई दी। पुलिस के आने पर एक महिला भागने में कामयाब हो गई, जबकि दूसरी को मौके पर ही काबू कर लिया गया। आरोपित महिला की पहचान जिला नारनौल के गांव बास की रहने वाली गीता के रूप में हुई। पुलिस ने पूनम की शिकायत पर चोरी का मामला दर्ज कर आरोपित महिला को गिरफ्तार कर लिया।

Edited By: Jagran

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट