जागरण संवाददाता, रेवाड़ी: विभिन्न मामलों में फरार चल रहे तथा अदालत द्वारा भगोड़े घोषित किए जा चुके आरोपितों को पकड़ने के लिए पुलिस की ओर से विशेष टीम बनाई गई है। टीम की ओर से पिछले एक माह में 39 आरोपितों को गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे पहुंचाया जा चुका है। इनमें एक मोस्ट वांटेड आरोपित के अतिरिक्त 33 अदालत द्वारा उद्घोषित व पांच जमानत तर्क आरोपित शामिल है।

पुलिस ने बताया कि अदालत में चल रहे विचाराधीन मामलों में कई आरोपित पेश नहीं होने पर उद्घोषित अपराधी करार दिए थे। जमानत मिलने के बाद भी कई आरोपित अदालत में पेश नहीं हो रहे है। अदालत द्वारा ऐसे लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई के लिए पुलिस को आदेश दिए गए है। आरोपितों को पकड़ने के लिए पुलिस अधीक्षक नाजनीन भसीन की ओर से स्पेशल टीम का गठन किया गया है। इस टीम द्वारा पिछले एक माह में एक मोस्ट वांटेड आरोपित के अतिरिक्त 33 अदालत द्वारा उद्घोषित व पांच जमानत तर्क आरोपितों को गिरफ्तार किया गया है। आरोपितों के खिलाफ मामले भी दर्ज किए गए है। एक माह के दौरान इतनी संख्या में फरार चल रहे आरोपितों को गिरफ्तार करना टीम की उपलब्धि रही है। इस उपलब्धि पर पुलिस अधीक्षक ने टीम की सराहना की है। एसपी ने कहा कि पुलिस अपराधियों पर शिकंजा कसने के लिए लगातार प्रयास कर रही है तथा इसमें सफलता भी मिल रही है। अभी और भी आरोपितों को जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस