यमुनानगर, जागरण संवाददाता। बुजुर्ग महिलाओं से स्नेचिंग वारदात करने के आरोपित सहारनपुर रोड स्थित जानकीनगर निवासी अजय उर्फ कालू को सीआइए टू की टीम ने गिरफ्तार किया है। आरोपित जनवरी माह में ही अभी तक चार वारदात को अंजाम दे चुका है। वर्ष 2017 में स्नेचिंग के मामले में वह दोषी करार दिया जा चुका है। अभी वह हाईकोर्ट से जमानत पर बाहर आया था। आरोपित को कोर्ट में पेश कर न्यायिक हिरासत में भेजा गया। आरोपित से पूछताछ में सात वारदात का पर्दाफाश हुआ है।

सीआइए टू की टीम को सूचना मिली थी कि औद्योगिक क्षेत्र में अजय वारदात की फिराक में घूम रहा है। इस सूचना पर सब इंस्पेक्टर मोहन वालिया, एएसआइ उमेश राठौर, आजाद सिंह, विपिन,  कुलदीप व सुनील की टीम का गठन किया गया। टीम ने मौके पर पहुंचकर आरोपित अजय को पकड़ा। आरोपित से जो बाइक बरामद की गई। वह उसके दस्तावेज नहीं दिखा सका। पूछताछ में आरोपित ने बताया कि यह बाइक उसने सितंबर माह में चोरी की थी। 

ये वारदात सुलझी

सीआइए टू के इंचार्ज महरूफ अली ने बताया कि आरोपित अजय ने पहले सिविल अस्पताल जगाधरी से सितंबर माह में बाइक चोरी की थी। इस बाइक पर उसने स्नेचिंग की वारदात की। 29 दिसंबर 2021 को प्रोफेसर कालोनी में बुजुर्ग महिला के गले से चेन झपटी। 10 जनवरी को सेक्टर 17 से घर के बाहर बैठी बुजुर्ग महिला के कानों की बालियां झपट ली। इसमें महिला को चोटें भी आई थी। 11 जनवरी को दुर्गा कालोनी जगाधरी में गली में बैठी बुजुर्ग महिला के कानों से फिर से सोने की बालियां झपटी। इसके अगले दिन 12 जनवरी को प्रेमनगर मुंडा माजरा में पैदल जा रही महिला के गले से सोने की चेन झपटने की कोशिश की थी। 11 जनवरी को ही महाराणा प्रताप चौक स्थित बैंक के बाहर से बाइक चोरी की।

2017 में किया जा चुका है गिरफ्तार

एक बाइक उसने जनवरी माह में ही थाना शहर यमुनानगर क्षेत्र से चोरी की थी। आरोपित अजय को वर्ष 2017 में स्नेचिंग के मामले में गिरफ्तार किया जा चुका है। इस केस में आरोपित को पांच साल की सजा हो चुकी है। इसके बाद आरोपित ने हाईकोर्ट में अपील की थी। वहां से उसे जमानत मिल गई थी। आते ही फिर से उसने वारदात करना शुरू कर दिया। स्नेचिंग की वारदात करते हुए वह सीसीटीवी फुटेज में भी आया था।

Edited By: Rajesh Kumar