जींद, जागरण संवाददाता। जींद के गांव रामराये तीर्थ में मंगलवार शाम को दोस्तों के साथ नहाने गए एक युवक की डूबने से मौत हो गई। जबकि उसके पांच साथियों को पास में नहा रहे दूसरे युवकों ने सुरक्षित बाहर निकाल लिया। मृतक युवक परिवार का इकलौता चिराग था।

पुलिस के अनुसार भूपेंद्र नगर निवासी अनिल, उसका बेटा दिव्यांशु (11), जानकार जतिन (20), अंश (20), मनीष (21), रोहित (21) मंगलवार शाम को गांव रामराये तीर्थ में नहाने गए थे। सभी युवक तीर्थ पर नहा रहे थे। इसी दौरान जतिन सीढ़ी से नीचे उतर गया और गहरे पानी में चला गया। इसी दौरान सीढ़ियों पर नहा रहे अंश ने उसको पकड़ना चाहा और वह भी गहरे पानी में चला गया। इसके बाद बचाने के चक्कर में गहरे पानी में चले गए।

शोर सुनकर ग्रामीण भी मौके पर पहुंचे

इसी बीच रोहित के हाथ सीढ़ी लग गई और वह अपने साथी मनीष को खीेंचने में कामयाब हो गया। दोनों द्वारा शोर मचाए जाने पर ग्रामीण मौके पर पहुंच गए और अनिल, दिव्यांशु व अंश को बाहर निकाला। जब उन्होंने जतिन को तलाशा तो उसका कोई सुराग नहीं लगा। शोर मचाए जाने पर ग्रामीण मौके पर पहुंचे और काफी मशक्कत के बाद बाहर निकाला। छह लोगों को नागरिक अस्पताल में लेकर आए। जहां पर चिकित्सकों ने जतिन को मृत घोषित कर दिया। जबकि अंश का नागरिक अस्पताल में इलाज चल रहा है।

दिल्ली कालेज में सेकेंड ईयर का छात्र था जतिन

स्वजनों ने बताया कि जतिन परिवार का इकलौता चिराग था और वह दिल्ली कालेज में द्वितीय वर्ष का छात्र था और कुछ दिन पहले ही वह घर पर आया था। जतिन के पिता राजेश रोहतक रोड पर दुकान चलाते हैं जबकि मां साधारण ग्रहणी है। बेटे की मौत ने पूरे परिवार को तोड़ कर रख दिया है।

शाम को नहाने के लिए गए थे

युवक मनीष ने बताया कि गर्मी होने के चलते शाम को नहाने के लिए गए थे। जहां पर जतिन को बचाने में चक्कर में सभी चैन बनाकर गहरे पानी में चले गए। जहां पर जतिन को नहीं बचाया जा सका। सदर थाना प्रभारी दिनेश कुमार ने बताया कि तीर्थ में युवक के डूबने की सूचना मिली है। परिवार के लोगों के बयान दर्ज करके आगामी कार्रवाई की जाएगी।

Edited By: Rajesh Kumar