जींद, जागरण संवाददाता। जींद में देहव्‍यापार का मामला सामने आया है। पुलिस ने होटल में रेड की। यहां पर देहव्‍यापार का पर्दाफाश हुआ। मौके से दो युवतियां, चार महिलाएंं सहित सात लोग गिरफ्तार किए गए। पुलिस सभी को थाने ले गई। देहव्‍यापार में शामिल युवतियां उत्‍तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल की हैं।

जींद के गोहाना रोड स्थित मिलन होटल में वेश्यावृति करवाने के मामले में महिला थाना पुलिस ने आपत्तिजनक हालत में दो युवक और दो युवतियों समेत सात लोगों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपितों में चार महिला और होटल मैनेजर अजय भी शामिल है। पुलिस ने सभी आरोपितों के खिलाफ वेश्यावृति के आरोप में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

महिला थाना पुलिस को सूचना मिली थी कि गोहाना रोड स्थित मिलन होटल में वेश्यावृति का धंधा चल रहा है। महिला थाना प्रभारी गीता देवी ने फर्जी ग्राहक को तैयार किया और 500-500 रुपये के दो नोट देकर होटल में भेज दिया। इसके बाद फर्जी ग्राहक ने होटल मैनेजर अजय से लड़कियों की मांग की, तो मैनेजर ने उनको लड़कियां उपलब्ध करवाने के लिए कमरे में भेज दिया। इसी दौरान फर्जी ग्राहक ने पुलिस टीम को इशारा कर दिया। जिसके बाद तुरंत महिला थाना पुलिस ने होटल पर रेड मार दी।

एक गाजियाबाद की युवती

रेड के दौरान दो कमरों में लड़के और लड़कियां आपत्तिजनक अवस्था में मिले। आपत्तिजनक हालत में मिले लड़कों की पहचान शाहपुर गांव के सुनील और गौरव उर्फ रवि के रूप में हुई। वहीं उनके साथ मिली लड़की उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल की थी। तीसरे कमरे में पुलिस द्वारा भेजे फर्जी ग्राहक के लिए उपलब्ध करवाई गई लड़की गाजियाबाद की और चौथे कमरे में मिली लड़की पश्चिम बंगाल की थी।

होटल का संचालक फरार

पुलिस पूछताछ में खुलासा हुआ कि पश्चिमी बंगाल के रहने वाले राजू और शिवम होटल के नजदीक ही एक कालोनी में एक महिला के साथ रहते हैं। जो ग्राहकों का प्रबंध करके होटल में वेश्यावृति करवाते हैं। होटल का संचालक जितेंद्र और लांगरी पुलिस टीम को देखकर फरार हो गए। जांच के दौरान पुलिस ने होटल के गल्ले से 3200 रुपये की नकदी भी बरामद की।

Edited By: Anurag Shukla