जागरण संवाददाता, समालखा : हथवाला रोड स्थित बेथनी कान्वेंट स्कूल प्रांगण में सामाजिक संस्था बेथनी की ओर से महिला सशक्तिकरण विषय पर कार्यक्रम कराया गया। मुख्यातिथि समाज सेविका सुमन ने कार्यक्रम की शुरूआत की। इस दौरान छात्राओं ने दहेज प्रथा, कन्या भ्रूण हत्या, महिला अत्याचार आदि बुराइयों से समाज पर पड़ने वाले असर को सबके सामने रखकर इनको खत्म करने के लिए संगठित होने का फैसला लिया।

सुमन ने कहा कि महिला सशक्तिकरण से समाज का उत्थान संभव है। जहां नारी की पूजा होती है, वहां भगवान का निवास होता है। लेकिन आज भी बहुत सारे लोग महिलाओं पर अत्याचार करते है। जिसे हमें सहन करने की बजाय उसका डटकर मुकाबला और विरोध करना होगा। उन्होंने कहा कि संविधान में महिला और पुरुष दोनों को बराबर को समानता का अधिकार मिला हुआ है। परंतु जागरूकता के अभाव में महिलाएं उन अधिकारों का फायदा नहीं उठा पा रही है। ऐसे में महिला को जागरूक होने के साथ सशक्त व संगठित होने की जरूरत है। वहीं प्रोग्राम संयोजक प्रभात नलिनी ने कहा कि महिला कमजोर नहीं है। सिर्फ बुलंद हौसले के साथ उड़ान भरने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी व कल्पना चावला भी महिलाएं थी, लेकिन उन्होंने विश्व में नारी शक्ति का लोहा मनवाया। हमें ऐसी महान शक्ति से सीख लेकर जीवन में आगे बढ़ना चाहिए। साथ ही उन्होंने महिलाओं को कानूनी अधिकारों के प्रति भी विस्तार से बतलाया। इस मौके पर प्रिंसिपल सिस्टर एलसी, सुदेश, नीरज, मितलेस, पूजा, आशा, अनीता व रानी मौजूद रहे।

Posted By: Jagran