करनाल, जागरण संवाददाता। सितंबर का महीना सबसे अधिक बरसात वाला साबित हो सकता है, क्योंकि इस समय मौसम की परिस्थितियां मानसून सक्रियता को बढ़ावा दे रही हैं। मौसम विभाग ने संभावना जताई है कि हरियाणा, दिल्ली व एनसीआर क्षेत्र में 20 सितंबर से फिर से बरसात का सिलसिला शुरू हो सकता है। मौसम विभाग की माने तो हरियाणा में अब तक सामान्य से 22 फीसदी अधिक बरसात हो चुकी है। ऐसे में यह आंकड़ा ओर अधिक बढ़ सकता है। जबकि दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में बारिश की गतिविधि के मामले में सितंबर का महीना अब तक अच्छा रहा है।

दिल्ली में भारी बारिश की संभावना

आने वाले दिनों में दिल्ली में भारी बारिश की संभावना जताई जा रही है। दिल्ली में बीते कुछ दिनों में रिकार्ड बारिश के साथ कुछ भारी बारिश दर्ज की गई है। इस समय निम्न दबाव का क्षेत्र मध्य प्रदेश और आसपास के इलाकों पर बना हुआ है। सिस्टम के आगे बढ़ने की उम्मीद है और इसके परिणामस्वरूप दिल्ली और एनसीआर क्षेत्र में कुछ अच्छी बारिश गतिविधि होगी। राष्ट्रीय राजधानी में आज रात भी कुछ बारिश हो सकती है और वहीं कल भारी बारिश की संभावना है। सितंबर महीने के दौरान, अब तक यानि एक से 16 सितंबर के बीच है, दिल्ली में 129.8 मिमी के मासिक औसत के मुकाबले 394 मिमी बारिश दर्ज की गई है।

1944 में हुई थी सबसे अधिक बरसात

इसके अलावा, अगर हम सितंबर में अब तक की सबसे अधिक बरसात की बात करें, तो यह 417 मिमी है जो वर्ष 1944 में देखी गई थी। अभी इस महीने में आखिरी 12 दिन बचे हुए है, ऐसा लग रहा है कि दिल्ली सबसे अधिक बारिश के आंकड़े को भी पार कर सकती है और अब तक का सबसे वर्षा वाला सितंबर बन सकता है। अगर बारिश अच्छी रही तो आने वाले समय में ही दिल्ली इस आंकड़े को पार कर सकती है।

Edited By: Rajesh Kumar