जागरण संवाददाता, पानीपत : पानीपत थर्मल पावर स्टेशन में मंगलवार को क्लोरीन गैस रिसाव के बाद अब पेयजल संकट उत्पन्न हो गया था। कालोनीवासियों को पानी की किल्लत उठानी पड़ रही है। जिससे लोगों में रोष व्याप्त है। पावर प्लांट के अधिकारी जल्द ही पेयजल संकट दूर करने का दावा कर रहे है।

मंगलवार को थर्मल की बंद पड़ी यूनिट नंबर 3 व 4 के पास पानी के क्लोरीनेशन प्लांट में सुबह दस बजे क्लोरीन गैस का सिलेंडर लीक हो गया। गैस हवा में फैलने से रोकने के लिए फायरकर्मी दो बजे तक सिलेंडर पर पानी फेंकते रहे, लेकिन उससे भी कोई फायदा नहीं हुआ था। बाद में चार फायरकर्मी भी गैस की चपेट में आने के कारण बेहोश हो गए थे। वहीं सिलेंडर लीक होने के कारण कॉलोनी की पानी सप्लाई पूरी तरह से बाधित हो गई थी। इसी प्लांट में क्लोरीनेशन किए गए पानी को पीने योग्य तैयार करने के बाद आगे थर्मल कॉलोनी के रिहायशी मकानों में सप्लाई किया जाता था। वहीं घटना के लिए जिम्मेदार ठेकेदार फरार हो गया था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस