पानीपत, जेएनएन। कोरोना से जंग तेज हो गई है। स्‍वास्‍थ्‍य विभाग लोगों को लगातार जागरूक कर रहा है। वहीं सरकार ने कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए लॉकडाउन कर रखा है। ऐसे में जरूरतमंद और गरीब तबके के लोगों को थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि उनकी मदद के लिए दानवीर मैदान में उतर आए हैं। राशन सहित अन्‍य खाद्य सामग्री उपलब्‍ध कराई जा रही है। 

संस्थाओं के साथ व्यक्तिगत लोगों में भी सेवा का उत्साह

लॉकडाउन में आरंभ फाउंडेशन और वार्ड 11 रेजिडेंट वेल्फेयर सोसाइटी ने कस्बे में निशुल्क मोबाइल प्राथमिक चिकित्सा सेवा की शुरुआत की है। लोगों को पास ही निशुल्क दवा दी जा रही है। उनका बैंडेज किया जाता है। नगरपालिका के चेयरपर्सन पति सचिन मित्तल ने इसका उद्घाटन किया है। ई-रिक्शा पर सेट इस मोबाइल डिस्पेंसरी में फस्र्ट एड के सारे सामान मौजूद हैं। दो स्वयं सेवकों की इसमें ड्यूटी लगाई गई है।

 

पूर्व पार्षद कुलभूषण अरोड़ा ने बताया कि मोबाइल डिस्पेंसरी पूरी तरह जनता को समर्पित है। मरहम, पट्टी, डिटॉल साबुन, मास्क, सैनिटाइजर आदि जरूरी चीजों से इसे सुसज्जित किया गया है। पहले दिन मॉडल टाउन, गोल्डन पार्क, समाजसेवा समिति, बागवाला मोहल्ला, फतेहचंद आदि गलियों में लोगों की सेवा की गई। संयुक्त रूप से दोनों संस्थाएं जरूरतमंदों को राशन भी वितरित कर रही है। आरंभ फाउंडेशन के अध्यक्ष सचिन अरोड़ा, मास्टर राम नारायण, हरीश मल्होत्र, नारायण प्लंबर, बलदेव, विकास साहू, वरुण चोपड़ा, हार्दिक अरोड़ा, विशाल गर्ग, पंकज कपूर, बिट्टू गर्ग का इसमें भरपूर सहयोग रहा।

 

रोड सेफ्टी टीम ने बांटा खाना

रोड टीम सेफ्टी के सदस्यों ने सोमवार को जरूरतमंदों तक राशन पहुंचाया। टीम के प्रमुख सदस्य हेमंत रोहिल्ला ने बताया, जरूरतमंद लोगों तक ये सूचना पहुंचनी जरूरी है कि उन तक खाना कैसे पहुंचेगा। भोजन वितरण की शुरुआत विकासनगर से की। उसके बाद नूरवाला, अजीजुलापुर और इंडस्टियल एरिया में पहुंचे। सड़क पर सेवा में लगे पुलिसकर्मियों को भी खाना खिलाया। उनके साथ उमनपाल सिंह, कबूल खान, सलीम खान, कृष्ण वशिष्ठ, अनिल रोहिल्ला रहे। वहीं कई जगहों पर सैनिटाइजर का छिड़काव कराया गया।

 Lockdown

इंद्री की 12वीं की छात्र दीपा मास्क बना कर रहीं मदद

समाजसेवा का जज्बा रखने वाली 12वीं कक्षा की छात्र दीपा घर में ही मास्क बनाकर लोगों की मदद कर रही है। दीपा का कहना है कि कोरोना के चलते परीक्षाएं रद किए जाने पर घर में खाली बैठने से अच्छा है कि समाज सेवा में अपनी भागीदारी निभाई जाए। इसलिए अपनी सहेलियों को साथ लगाकर उसने घर में मास्क बनाने शुरू किए और जरूरतमंदों को वितरित करने का बीड़ा उठाया।

हरियाली युवा संगठन को दिए दान

दीपा की बहन आशु ने घर वेस्ट से कैरी बैग बनाए व कपड़े के 50 मास्क बनाकर हरियाली युवा संगठन को दान दिए। संगठन सदस्य सोनम ने गांव शाहपुर में महिलाओं को मास्क बांटे। इसके अलावा, छात्रओं की टीम जूट व कपड़े के थैले भी बना रही हैं। दीपा के परिवार में दादा-दादी, माता-पिता, भाई व बहन हैं। उसके माता-पिता मजदूरी करते हैं, जिसके चलते वह जरूरतमंद की परेशानी को करीब से समझती हैं। दीपा के अनुसार मुश्किल की इस घड़ी में इंसान ही एक-दूसरे के काम आता है। इस मौके पर कमलेश, जगराम, अमन, अंजू मौजूद थे।

युवाओं के लिए एक बेटी की पहल अनुकर‍णीय

समाजसेवी अरुण ने कहा कि दीपा की यह पहल आज के युवाओं के लिए अनुकरणीय है। जरूरी नहीं कि जरूरतमंद की मदद पैसे से ही की जाए, यदि जज्बा हो तो कम संसाधनों में भी सहायता की जा सकती है।

 

अंबाला में भूखों को भोजन दे रहा सेवा सदन

कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए पूरे देश में 21 दिना का लॉकडाउन सरकार की ओर से किया गया है। इस वायरस से बचाव के लिए लोग घरों में जीवन व्यतीत कर रहे हैं। वही अंबाला जिले में कुछ ऐसे लोग हैं, जो दो वक्त की रोटी के लिए मोहताज हैं। लॉकडाउन में उनका काम बिल्कुल बंद हो गया है। जो राशन बचा था वो भी खत्म हो गया।

ऐसे में बेबस और मजदूर लोग परिवार को दो वक्त की रोटी तक नहीं जुटा पा रहे हैं। ऐसे परिवारों के साथ इनके छोटे छोटे बच्चे भी भूखे सो जाते हैं। बरनाला में ऐसा ही कुछ देखने को मिला। यहां पर मजदूर लोग दो दिन से भूखे थे। इन लोगों के लिए शहर के कई संगठनों से जुड़े सदस्यों ने योद्धा की भूमिका निभाई और इन्हें भोजन कराया।

ये कोरोना योद्धा 6 बजे उठ जाते हैं। अपने घरों का कामकाज निपटाने के बाद गरीब और बेसहारा लोगों की सेवा में जुट जाते हैं। घरो में खाना, मास्क, सैनिटाजर तैयार कर मजदूरों तक पहुचा रहे हैं। इतना ही नही लोगों के लिए फं¨डग भी कर रहे है।

 सेवा सदन से जुड़ कर रहे सेवा

हम सेवा सदन द्वारा मिलकर अपने गांव व आसपास के क्षेत्र में जरूरतमंद लोगों की मदद कर रहे हैं। उनको समय समय पर खानपान की सामग्री उपलब्ध करा रहे।

- नवजोत कौर, सरपंच बरनाला अंबाला

लोगों के लिए जुटा रहे फंड

लॉकडाउन में हम लोगों से जितनी मदद हो रही है। उसको पूरा कर रहे हैं। गरीब और बेबस लोगों की सहायता के लिए फंडिंग भी जुटा रहे हैं। ताकि लोगों को इस महामारी में मदद मिल सकें।

- रीता मुंजल, तुलसी पब्लिक स्कूल

मदद में है जीआरपी

जीआरपी प्रभारी इन दिनों निष्ठा के साथ अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं। अंबाला छावनी रेवले स्टेशन पर टीम के साथ मुस्तैद है। यहां पर आने जाने वाले लोगों की सहायता भी कर रहे हैं।

-विलायती राम, एसएचओ जीआरपी

शाहजदपुर में भी धार्मिक और सामाजिक संस्‍थाओं ने बढ़ाए हाथ

प्रशासन के साथ धार्मिंग एवं सामाजिक संस्थाएं तथा अन्य लोगों को जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे आ रहें है। प्रशासन के मार्गदर्शन में राशन उपलब्ध करवाया जा रहा है। सोमवार को भारतीय किसान यूनियन ने एसडीएम नारायणगढ़ अदिति व बीडीपीओ विशाल पराशर की मौजूदगी में सड़क किनारे झुंगियों में रह रहे 20 परिवारों को सूखे राशन की किट वितरित की। भाकियू अंबाला मंडल प्रधान नरपत राणा ने कहा कि समाज सेवा की इस मुहिम को आगे भी जारी रखा जाएगा और प्रशासन को हरसम्भव सहयोग दिया जाएगा। इस अवसर पर गोगा राणा, पम्मी धनाना, धर्म सिंह राणा,संजीव, बालक राम, दर्शन, बलबीर, रणधीर, बिंदर, रामपाल, सुभाष आदि मौजूद रहे।

Posted By: Anurag Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस