कुरुक्षेत्र, जागरण संवाददाता। कुरुक्षेत्र के 85 सब सेंटरों को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर में अपग्रेड कर दिया गया है। खास बात यह है कि इनमें से 25 सेंटरों पर कम्युनिटी हेल्थ आफिसर भी तैनात कर दिए गए हैं। बाकी के केंद्रों पर हेल्थ आफिसर तैनात करने को लेकर सरकार की ओर से प्रक्रिया चल रही है। इन हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों पर अब उच्च रक्तचाप, मधुमेह के साथ-साथ कैंसर और क्षय रोगियों की देखरेख भी होगी।

हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों पर कम्युनिटी हेल्थ आफिसर तैनात

हालांकि पहले सब सेंटरों पर महज एक एएनएम तैनात होती थीं, जो स्वास्थ्य विभाग के इम्युनाइजेशन और प्रिवेंटिव कार्यों को ही कर रही थीं। मगर मरीजों को प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर बार-बार धक्के खाने की जरूरत नहीं होगी। एक बार डोज तय होने के बाद इन्हीं सेंटरों पर मरीजों की दवा मिलेगी।

ये टेस्ट हो सकेंगे सेंटरों पर

ब्लड शुगर, मलेरिया, डेंगू, हीमोग्लोबिन, यूरीन टेस्ट, हेपेटाइटिस बी और टीबी की जांच हो सकेगी। इनमें से कुछ सैंपलों को जरूरत पड़ने पर नजदीक के प्राथमिक और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर भेजे जाएंगे।

इन पर तैनात हुए सीएचओ

जिले में 25 हेल्थ एंड वेलनेस सेटरों पर कम्युनिटी हेल्थ आफिसर तैनात हो चुके हैं। गुमथलागढू, थाना, संधोली, मोहड़ी, खरींडवा, सूढ़पुर, हरिपुर, बीड़मथाना, सिरसमा, कमोदा, बगथला, ज्योतिसर, मिर्जापुर, दयालपुर, दबखेड़ी, हलालपुर, बहादुरपुर कलां, धीरपुर, धुराला, संघोर, प्रतापगढ़, छलौंदी, मसाना, अजराना खुर्द और हथीरा में हेल्थ आफिसर तैनात हो चुके हैं।

अब प्राइमरी केयर भी होगी हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों पर : डा. जगमिंद्र सिंह

वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डा. जगमिंद्र सिंह ने बताया कि पहले सब सेंटरों पर केवल एएनएम तैनात होती थीं, लेकिन अब हेल्थ एंड वेलनेस सेंटरों पर कम्युनिटी हेल्थ आफिसर तैनात होंगी। इससे स्वास्थ्य सुविधाओं का ढांचा और मजबूत होगा। पहले सब सेंटरों पर केवल प्रिवेंटिव और प्रोमोटिव ही किया जा रहा था। मगर अब इन केंद्रों पर प्राइमरी केयर होगी।

Edited By: Naveen Dalal