जासं, पानीपत : एनआइएसटीएचए (नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर स्कूल हेड्स एंड टीचर्स होल्सिटिक एडवांसमेंट) के अंतर्गत एमएचआरडी और एनसीईआरटी के तहत सरकारी स्कूलों के अध्यापकों की तीसरे चरण की ट्रेनिग सोमवार को शुरू हुई। इसमें छठी से आठवीं कक्षा के अध्यापक शामिल हुए।

मास्टर ट्रेनर ममता दहिया ने अध्यापकों को पढ़ाने के पैटर्न के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि पूरे देश में शिक्षा का एक पैट्रन किया जा रहा है। यह युवाओं के भविष्य के लिए जरूरी भी था। अध्यापकों को इसके लिए आगे आना होगा। इसके बिना पैट्रन सफल नहीं हो सकता।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस