यमुनानगर, जागरण संवाददाता। सदर यमुनानगर थाना क्षेत्र के गांव दामला के पास सड़क किनारे खड़े ट्रक में गति से आ रहे दूसरे ट्रक ने टक्कर मार दी। इस हादसे में ट्रक में बैठे दो सगे भाईयों सुघमाजरी निवासी 22 वर्षीय गौरव व 18 वर्षीय राहुल की मौके पर ही मौत हो गई। हादसे के बाद आरोपित चालक ट्रक छोड़कर फरार हो गया। पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और दोनों ट्रकों को कब्जे में लिया।

पानीपत की हनुमान कालोनी निवासी विजय शर्मा ने बताया कि वह ट्रक पर ड्राइवरी करता है। उसके साथ गौरव ट्रक पर हेल्परी करता था। बुधवार की रात को वह ट्रक में खनन सामग्री लेने के लिए पानीपत से प्रतापनगर के लिए चला था। ट्रक में गौरव के अलावा उसका छोटा भाई राहुल भी था। जिसे यमुनानगर आना था। वीरवार की सुबह करीब चार बजे वह दामला पहुंचे, तो ट्रक के टायर में पटाखा होने की आवाज आई। जिस पर ट्रक को साइड में रोका और उसके टायर चेक किए। इसके बाद वह पेशाब करने चला गया। जबकि गौरव व राहुल ट्रक में ही बैठे थे। इसी दौरान यमुनानगर की ओर से गति से एक ट्रक आया और सीधा उनके ट्रक में टक्कर मार दी। टक्कर लगते ही आगे की साइड के परखच्चे उड़ गए। अंदर गौरव व राहुल फंस गए। आसपास के लोग एकत्र हुए। किसी तरह से उन्हें ट्रक से बाहर निकाला। जब तक उन्हें बाहर निकाला गया। दोनों की मौत हो चुकी थी।

पिता की पहले हो चुकी मौत, मां रह रही पानीपत में

सुघमाजरी निवासी गुरदीप सिंह ने बताया कि मृतक गौरव का पिता उनके पास कार्य करता था। उसकी काफी पहले मौत हो गई थी। उस समय गौरव व उसके भाई रजत, राहुल व सौरभ काफी छोटे थे। उनके परिवार ने ही उनका पालन पोषण किया था। गौरव की दो साल पहले शादी हुई थी। उसके पास छह माह का बेटा है। उनके पिता की मौत के बाद मां ने दूसरी शादी कर ली थी। जो पानीपत में रहने लगी थी। बच्चे भी उसके पास चले जाते थे। गौरव व राहुल कुछ दिन पहले से ही उसके पास गए हुए थे। वहीं ट्रक मालिक पानीपत निवासी हेमंत ने बताया कि दोनों ही गाड़ियां उनकी ही हैं। सूचना पर वह भी यहां पहुंचे हैं। गौरव उनके ही ट्रक पर क्लीनर था। उसके भाई राहुल को यहां यमुनानगर आना होगा। इसलिए वह किराया बचाने के चक्कर में उसे अपने साथ ट्रक में लेकर आ रहा था। जांच अधिकारी अजय कुमार ने बताया कि दोनों ट्रकों को कब्जे में लिया गया है। मामले में केस दर्ज कर लिया गया है।

Edited By: Anurag Shukla